Search
Close this search box.

सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना की गिरफ्तारी और एसआईटी जांच {31-05-2024}

यौन उत्पीड़न कांड में सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना गिरफ्तार

प्रज्ज्वल के वकील ने कहा कि मीडिया की जांच नहीं करनी चाहिए क्योंकि वे भारत आए हैं; विशेष जांच दल (एसआईटी) ने प्रज्ज्वल को देर रात केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर गिरफ्तार कर लिया, जब माँ को SIT का नोटिस जर्मनी के म्यूनिख से बंगलूरू हवाई अड्डे पर पहुंचा। आज प्रकाश को मेडकिल ले जाया जाएगा।

यौन उत्पीड़न कांड में सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना गिरफ्तार

यौन उत्पीड़न कांड के आरोपी सांसद प्रज्ज्वल रेवन्ना अंततः गिरफ्तार हो गए हैं। आज प्रकाश को मेडकिल ले जाया जाएगा। विशेष जांच दल (एसआईटी) सुबह बंगलूरू सीआईडी कार्यालय पहुंचा है। उनके साथ सीआईडी कार्यालय में पूछताछ की जाएगी। एसआईटी सूत्रों के अनुसार, उनका पौरूष परीक्षण भी हो सकता है। अरुण, प्रज्ज्वल का वकील, ने कहा कि वे जांच में सहयोग करेंगे। एसआईटी सूत्रों के अनुसार, उनका पौरूष परीक्षण भी हो सकता है। अरुण, प्रज्ज्वल के अधिवक्ता, ने कहा कि वे जांच में सहयोग करने को तैयार हैं। मीडिया से अनुरोध है कि वे मीडिया ट्रायल से बचें। होलेनरसीपुरा मामले में उन्हें पकड़ लिया गया है।

प्रज्वल की मां को भी नोटिस एसआईटी ने प्रज्वल की मां भवानी रेवन्ना को भी नोटिस भेजा है। SIT ने उन्हें 1 जून को होलेनरसीपुर में उनके घर पर पहुँचने को कहा है। प्रज्ज्वल और उनकी मां की आज विशेष अदालत में याचिका पर सुनवाई होगी। उनकी मां ने कथित अपहरण मामले में अग्रिम जमानत की मांग की है। भवानी इस मामले में आरोपी नहीं हैं, लेकिन एसआईटी उनकी भूमिका की जांच करना चाहती है। प्रज्ज्वल के पिता, विधायक एच डी रेवन्ना, भी इस मामले में गिरफ्तार किया गया था। बाद में उन्हें जमानत मिली।

कर्नाटक के गृहमंत्री श्री परमेश्वर ने बताया कि प्रज्ज्वल रेवन्ना कल रात 12.50 बजे जर्मनी से आए हैं। उन्हें पकड़ लिया गया है। अधिकारी कानून के अनुसार कार्रवाई करेंगे। कल मैं शिमोगा से लौटा हूँ। मैंने अधिकारियों से अभी तक बातचीत नहीं की है। हमने पहले भी साफ किया है कि पीड़ितों को एसआईटी को अपनी परेशानियों को बताना चाहिए।

विशेष जांच दल (एसआईटी) ने देर रात म्यूनिख, जर्मनी से बंगलूरू हवाई अड्डे पर पहुंचते ही प्रज्ज्वल को गिरफ्तार कर लिया। जानकारी के अनुसार, प्रज्ज्वल 31 मई को बेंगलुरु लौटते ही केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल के अधिकारियों ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। बाद में, औपचारिकताएं पूरी होने पर उसे एसआईटी को सौंप दिया गया। गिरफ्तारी के बाद प्रज्ज्वल रेवन्ना को एसआईटी ने बेंगलुरू में सीआईडी के कार्यालय भेजा। रेवन्ना को यहां से मेडिकल परीक्षण के लिए ले जाया जाएगा।

विशेष जांच दल (एसआईटी) भी बेंगलुरु हवाई अड्डे से दो सूटकेस ले गया था।यौन उत्पीड़न के आरोपों का सामना कर रहे प्रज्ज्वल ने पहले ही एक वीडियो संदेश जारी कर 31 मई को भारत वापसी की घोषणा की थी। SSIT रेवन्ना को बंगलूरू एयरपोर्ट पर गिरफ्तार करने के लिए पहले से ही तैयार था। इंटरपोल ने रेवन्ना के खिलाफ पिछले दिनों एक ब्लू कॉर्नर नोटिस जारी किया था।

राज्य के गृहमंत्री ने कहा कि प्रज्ज्वल की देश वापसी को देखते हुए भारी पुलिस बल लगाया गया था। बृहस्पतिवार को कर्नाटक के गृह मंत्री डॉ. जी. परमेश्वर ने कहा कि शुक्रवार को जेडीएस सांसद प्रज्वल रेवन्ना को एयरपोर्ट पर पहुंचते ही एसआईटी की टीम गिरफ्तार कर लेगी। सेक्स वीडियो कांड का मुख्य आरोपी प्रज्वल रेवन्ना है।

सैकड़ों लोगों ने बृहस्पतिवार को जनता दल (सेक्युलर) के निलंबित नेता प्रज्ज्वल रेवन्ना के खिलाफ प्रदर्शन किया और पीड़ितों के लिए न्याय की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने “हासन चलो” मार्च में भाग लिया और आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की साथ ही मामले की निष्पक्ष जांच की मांग की। ‘नवेड्डु निलादिद्दरे’ नामक मानवाधिकार समूह ने इस मार्च को इसका आयोजन किया था। राज्य भर की महिलाओं, श्रमिकों, किसानों और दलितों ने इसमें भाग लिया। 

यह भी पढ़े:-

Spicejet विवाद: स्पाइसजेट ने कलानिधि मारन और केएल एयरवेज के 1323 करोड़ रुपये के दावे को गलत बताया
स्पाइसजेट ने शेयर बाजारों को दी गई सूचना में कहा कि वह केएएल एयरवेज और मारन द्वारा 1,323 करोड़ रुपये के मुआवजे की मांग को सिरे से खारिज करती है। मंगलवार को एयरलाइन ने फाइलिंग में कहा कि ये दावे कानूनी रूप से नहीं हैं। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer