Search
Close this search box.

संजय राउत का दावा: “पीएम मोदी-शाह ने चुनाव में गडकरी की हार के लिए काम किया”{26-05-2024}

संजय राउत का आरोप

भाजपा नेता ने प्रतिक्रिया व्यक्त की, शिवसेना (यूबीटी) के नेता संजय राउत ने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने प्रत्येक निर्वाचन क्षेत्र में 25 से 30 लाख रुपये दिए थे। अजित पवार के नेतृत्व वाली राकांपा के उम्मीदवारों को उनकी रणनीति ने हराया।

संजय राउत का आरोप

रविवार को शिवसेना (यूबीटी) नेता संजय राउत ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय मंत्री अमित शाह और महाराष्ट्र के उप-मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने नितिन गडकरी को लोकसभा चुनाव में हराया। राउत ने दावा किया कि फडणवीस ने चाहते हुए भी गडकरी का प्रचार किया था। नितिन गडकरी नागपुर से चुनाव लड़ रहे हैं।साथ ही, दोनों भाजपा नेताओं (फडणवीस और गडकरी) का जन्मस्थान यहीं है।

शिवसेना (यूबीटी) के मुखपत्र सामना में संजय राउत ने कहा, “पीएम मोदी, शाह और फडणवीस ने नागपुर में नितिन गडकरी की हार के लिए काम किया।” फड़नवीस ने चाहते हुए भी गडकरी के पक्ष में प्रचार किया जब उन्हें पता चला कि उन्हें हराया नहीं जा सकता था। आरएसएस ने कहा कि फडणवीस ने विपक्ष के लिए गडकरी को हराया।”

राउत शिवसेना (यूबीटी) नेता ने कहा कि मोदी-शाह के सत्ता में लौटने के बाद यूपी का सीएम बदल जाएगा: महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने हर निर्वाचन क्षेत्र में 25 से 30 लाख रुपये दिए हैं। अजित पवार के नेतृत्व वाली राकांपा के उम्मीदवारों को उनकी रणनीति ने हराया। उनका आरोप था कि योगी आदित्यनाथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री को बदल देंगे अगर मोदी-शाह लोकसभा चुनाव के बाद सत्ता में वापस आते हैं।

भाजपा नेता ने जवाब दिया संजय राउत के दावों पर महाराष्ट्र के भाजपा अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा कि राउत भ्रम में है। उनका कहना था कि भाजपा एक परिवार नहीं, बल्कि एक पार्टी है। हमेशा गुटबाजी की राजनीति करने वाले लोग पारिवारिक बंधन को नहीं समझ सकते। भाजपा के परिवार में मोदी, शाह, योगी आदित्यनाथ, गडकरी और फडणवीस सब हैं। राष्ट्रहित की नीति हमेशा हमारी प्राथमिकता है।”
शिवसेना (यूबीटी) नेता पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि केवल राकांपा-एसपी अध्यक्ष शरद पवार ही संजय राउत के लिए पहले आते हैं। इसके बाद उद्धव ठाकरे और उनका हित आते हैं। उनका कहना था कि अगर राउत चाहता है तो हम 2019 में उनका मुख्यमंत्री बनने का प्रयास बता सकते हैं।

यह भी पढ़े:-

बीकानेर की गर्मी का कहर: 47 डिग्री का तापमान, BSF जवान ने गर्म रेत पर सेंका पापड़

वाह, यह गर्मी: बीकानेर में 47 डिग्री पार पहुंचा पारा, बीएसएफ जवान ने गर्म रेत पर पापड़ सेंका; चित्र बिकानेर में वायरल हो गया: भारत-पाकिस्तान बॉर्डर पर जवानों ने गर्मी की तीव्रता को उजागर करने के लिए बहुत कुछ किया।पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer