Search
Close this search box.

Fatahabad: बारदाना के गोदाम में भीषण आग लगी, 18 लाख रुपये का सामान जलकर राख हो गया {11-04-2024}

Fatahabad: बारदाना के गोदाम में भीषण आग लगी, 18 लाख रुपये का सामान जलकर राख हो गया

रात को फतेहाबाद के हरे कृष्णा राइस मिल के बारदाना गोदाम में शार्ट सर्किट से भयंकर आग लग गई, जो सात घंटे में नियंत्रित हो गई। घटना में लगभग 70 हजार कट्टे बारदाना और 30 से 40 तिरपालों को जला दिया गया है। घटना की सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड में हड़कंप की स्थिति घोषित की गई।

Fatahabad: बारदाना के गोदाम में भीषण आग लगी, 18 लाख रुपये का सामान जलकर राख हो गया

फतेहाबाद के रसूलपुर गांव में बुधवार रात एक राइस मिल के बारदाना गोदाम में भारी आग लग गई। गोदाम संचालक ने तेज धुआं और आग की लपटें देखकर पुलिस को बताया। धारसूल अग्निशमन विभाग की गाड़ी, मार्केट कमेटी सचिव संदीप लोहान और कुलां चौकी पुलिस मौके पर पहुंचीं। दमकल कर्मियों और पुलिस ने आग पर काबू पाने की कोशिश की, लेकिन यह बहुत फैल चुकी थी।

जिला के अन्य फायर स्टेशनों को इसकी सूचना दी गई और जेसीबी मशीनों की मांग की गई। थोड़ी देर बाद ही दमकल गाडियां रतिया, भूना, टोहाना और जाखल केंद्र से आग बुझाने पहुंचीं। तीन जेसीबी मशीनों की मदद से पांच दमकल विभाग की गाड़ियों से लगभग सात घंटे की कड़ी मशक्कत से आग पर काबू पाया गया, लेकिन तब तक पूरा बरदाना जल गया था। इसके अलावा, गोदाम में पड़ी लगभग चालीस से चालीस तिरपाल भी जल गई हैं। इस दुर्घटना से लगभग १८ लाख रुपये का नुकसान हुआ है।

धारसूल दमकल केंद्र के इंचार्ज सुरेंद्र कुमार ने बताया कि घटना बुधवार रात हुई थी। उन्हें डायल 112 से सूचना मिली। जिस पर मौके पर दमकल कर्मी पहुंचे। उन्हें बताया गया कि गोदाम में लगी आग इतनी भयंकर हो गई कि पांच दमकल की गाड़ियां भी उसे नियंत्रित नहीं कर सकीं. लगभग सात घंटे की कोशिश के बाद आग को बुझाया गया।

घटना की सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड में हड़कंप की स्थिति लागू की गई। बाद में आनन-फानन में फायर ब्रिगेड ने एक के बाद एक गाड़ी को जिले के विभिन्न दमकल स्टेशनों पर भेजा, लेकिन पांच गाड़ी भी भीषण आग पर नियंत्रण नहीं पा सकी। घटना में लगभग सत्तर हजार कट्टे बारदाना और चालीस से चालीस तिरपाल जलकर खाक हो गए हैं।

दमकल की गाड़ियों के साथ मौके पर पहुंचे पुलिस ने आसपास के लोगों को सतर्क करते हुए जेसीबी से बारदाना उठाकर आग को नियंत्रित करने की कोशिश की। उस समय फायर ब्रिगेड की पांच गाड़ियां एक साथ मिलकर आग बुझाने की कोशिश करती थीं, लेकिन आग इतनी बड़ी थी कि पांच गाड़ियां मिलकर भी इसे नियंत्रित नहीं कर सकीं। दर्जनों कर्मचारी राहत और बचाव कार्य में लगे हुए थे।

यह भी पढ़े:-

वोटकटवा सही होगा ओवैसी-पल्लवी लड़ाई में असदुद्दीन ओवैसी और पल्लवी पटेल का वोटकटवा भी साबित होगा

वोटकटवा सही होगा ओवैसी-पल्लवी लड़ाई में असदुद्दीन ओवैसी और पल्लवी पटेल का वोटकटवा भी साबित होगा। पीडीए बनाम पीडीएम की लड़ाई में भी सियासी पंडित नफा-नुकसान का आकलन कर रहे हैं। पुरा पढ़े

 

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post