Search
Close this search box.

Haryana राज्य: 2018 में जननायक जनता पार्टी के गठन के बाद टोहाना के पूर्व विधायक सरदार निशान {08-04-2024}

Haryana राज्य: 2018 में जननायक जनता पार्टी के गठन के बाद टोहाना के पूर्व विधायक सरदार निशान

Haryana राज्य: 2018 में जननायक जनता पार्टी के गठन के बाद टोहाना के पूर्व विधायक सरदार निशान सिंह ने प्रदेशाध्यक्ष पद पर नियुक्ति लेते हुए कहा कि वे जल्द ही पार्टी छोड़ देंगे. लोकसभा चुनाव से पहले, उन्होंने इस्तीफा दे दिया। करीब साढ़े पांच साल से वह प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं।

Haryana राज्य: 2018 में जननायक जनता पार्टी के गठन के बाद टोहाना के पूर्व विधायक सरदार निशान

लोकसभा चुनाव से पहले जननायक जनता पार्टी को बुरा झटका लगने वाला है। प्रदेश अध्यक्ष निशान सिंह पार्टी से बाहर निकल जाएंगे। कांग्रेस या भाजपा में उनके शामिल होने की अटकलें बहुत हैं। निशान सिंह ने खुद कहा कि वह अब जजपा में नहीं रहेंगे। निशान सिंह ने संवाद न्यूज एजेंसी से बातचीत में कहा कि वह आज या कल जजपा से इस्तीफा दे देंगे। भविष्य के निर्णय के बारे में प्रेस वार्ता करेंगे।

2000 में सरदार निशान सिंह ने इनेलो की टिकट पर टोहाना से विधायक चुनाव जीता था। बाद में भी उन्होंने इनेलो की टिकट पर तीन बार चुनाव जीता। कोई भी चुनाव जीत नहीं पाया। हर बार एक अलग स्थान पर रहे।2019 के चुनाव में सरदार निशान सिंह जजपा ने देवेंद्र बबली के लिए छोड़ी गई टोहाना सीट पर टिकट माँगा। हालाँकि, कांग्रेस की टिकट नहीं मिलने पर देवेंद्र सिंह बबली ने जजपा की ओर रुख किया। पार्टी नेताओं के आग्रह पर निशान सिंह ने टोहाना सीट बबली के लिए छोड़ दी क्योंकि वह बबली का मजबूत दावेदार था। बाद में बबली टोहाना से जीते और 2021 में गठबंधन सरकार में पंचायत मंत्री बने।

निशान सिंह का बेटा सरपंच चुनाव में हार गया, लेकिन जजपा प्रदेशाध्यक्ष निशान सिंह के बेटे तेजेंद्र सिंह ने अपने पैतृक गांव मामुपुर में पिछले पंचायत चुनाव में जीत हासिल की। लेकिन वह जीत नहीं पाया। गुरप्रीत सिंह, दूसरे प्रतिद्वंद्वी, 171 वोटों से तेजेंद्र सिंह को हराया

यह भी पढ़े:-

विश्व स्वास्थ दिवस: ये दो बुरी आदतें लिवर-किडनी और फेफड़ों की 40% बीमारियों का कारण हैं, तुरंत सुधारें

कई प्रकार की बीमारियां आहार और लाइफस्टाइल में बदलाव से होती हैं। लिवर-किडनी और फेफड़े जैसे अंगों की समस्या पिछले कुछ दशकों में बढ़ते हुए देखा गया है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि लगभग हर उम्र में इससे जुड़े विकारों के मामले बढ़ रहे हैं। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post