Search
Close this search box.

प्रधानमंत्री आवास योजना की सभी जानकारी, जैसे ग्रामीण और नगर लिस्ट, एलिजिबिलिटी, सब्सिडी और लोन स्टेटस {05-04-2024}

प्रधानमंत्री आवास योजना की सभी जानकारी, जैसे ग्रामीण और नगर लिस्ट, एलिजिबिलिटी, सब्सिडी और लोन स्टेटस

25 जून 2015 को भारत सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना शुरू की। योजना का उद्देश्य था कि देश के हर गरीब व्यक्ति को घर खरीदने में सरकारी मदद दी जाए। इस आर्थिक सहायता में सब्सिडी दी जाती है और लाभार्थी को 20 वर्षों के लिए बहुत कम ब्याज दरों पर लोन दिया जाता है। प्रधानमंत्री आवास योजना में योग्यता, ऑनलाइन आवेदन और आवश्यक दस्तावेजों के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त करें।

प्रधानमंत्री आवास योजना की सभी जानकारी, जैसे ग्रामीण और नगर लिस्ट, एलिजिबिलिटी, सब्सिडी और लोन स्टेटस

प्रधानमंत्री आवास योजना (PM Awas Yojana) का उद्देश्य देश के हर गरीब को घर देना था. इसकी शुरुआत 25 जून 2015 को हुई थी। लाभार्थी को योजना के तहत घर बनाने के लिए सब्सिडी दी जाती है। सब्सिडी की राशि आय पर निर्भर कर सकती है। लोन चुकाने के लिए 20 साल भी मिलते हैं। जिस पर ब्याज दर अत्यधिक कम है। योजना शहरी और ग्रामीण दो भागों में विभाजित है। प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ लेने के लिए कई शर्तें पूरी करनी होती हैं। यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इस लेख में सभी जानकारी मिलेगी।

सालाना आय तीन लाख रुपये से कम होने वाले व्यक्ति प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री आवास योजना के विशिष्ट पहलू

यह योजना केंद्र सरकार द्वारा संचालित की जाती है प्रधानमंत्री आवास योजना के विशिष्ट पहलू: केंद्र सरकार इस योजना को संचालित करती है।

• प्रधानमंत्री आवास योजना में घर खरीदने के लिए लोन मिलता है। जिस पर कैटेगरी और व्यक्ति की आय के आधार पर सरकार भी सब्सिडी देती है। इसके लोन के भुगतान पर कोई सब्सिडी नहीं दी जाती है।

• आप घर बैठे प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। इतना ही नहीं, आपका नाम लिस्ट में है या नहीं, इसे ऑनलाइन जाकर देख सकते हैं। इसके लिए एक सरल चरण का पालन करना होगा।

• इसके लिए आवेदन कर सकते हैं जो व्यक्ति की सालाना आय 3 लाख रुपये से कम है।

• इसमें पैसा तीन बार दिया जाता है

• 2.5 लाख रुपये तक की सब्सिडी सरकार द्वारा दी जाती है। ताकि गरीब परिवारों को घर बनाने या खरीदने का आर्थिक बोझ न पड़े।

• योजना का पहला निवेश 50 हजार रुपये है, दूसरा 1.5 लाख रुपये का है और तीसरा 50 हजार रुपये का है। साथ ही, आम बैंकों से होम लोन लेने पर ब्याज दर काफी कम होती है।

• इस कार्यक्रम का उद्देश्य देश के हर परिवार को पक्का घर देना था।

प्रधानमंत्री आवास योजना: एक परिचय योजना का नाम है प्रधानमंत्री आवास योजना, इसे 25 जून 2015 को शुरू किया गया था और इसका उद्देश्य देश के सभी नागरिकों को घर देना है।

लाभार्थी: आर्थिक रूप से कमजोर भारत के नागरिक, एलआईजी, EWS या MGI 1 या 2 कैटेगरी में आते हैं।

सरकारी आधिकारिक वेबसाइट: https://pmaymis.gov.in; टोल फ्री फोन नंबर: 011-23063285 और 0111-23060484

1. प्रधानमंत्री आवास योजना की योग्यता18 वर्ष से अधिक उम्र का नागरिक होना अनिवार्य है। 55 वर्ष की आयु के अधिकतम उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं।

2।योजना का लाभ एक बार प्राप्त हो गया है तो फिर से नहीं लिया जा सकता।

3।भारत में पक्का घर कहीं नहीं होना चाहिए।

4।घर खरीदने के लिए पहले से कोई सरकारी अनुदान नहीं लिया होगा।

5।उम्मीदवार को निम्न आय वर्ग (LGI), आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) या मध्यम आय वर्ग (MIG 1 या 2) से आना चाहिए।

6:लाभार्थी पति, पत्नी या अविवाहित बच्चे हो सकते हैं।

7:एक व्यस्क, जो शादीशुदा नहीं है, एक अलग परिवार माना जा सकता है। यानी वह चाहे तो प्रधानमंत्री आवास योजना से अलग से लोन ले सकता है।

मध्यम आय वर्ग 2 (MIG 2) का 3% 20 वर्ष में 18 लाख रुपये 12 लाख रुपये, मध्यम आय वर्ग (MIG) का 4% 20 वर्ष में 12 लाख रुपये 9 लाख रुपये, निम्न आय वर्ग का 6% 20 वर्ष में 6 लाख रुपये 6 लाख रुपये, आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) का 6% 20 वर्ष में 3 लाख रुपये 6 लाख रुपये

प्रधानमंत्री आवास योजना के फायदे

• गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों को पक्का घर देना

• प्रधानमंत्री आवास योजना से 2.5 लाख रुपये की सब्सिडी मिलती है।

• योजना की आय के अनुसार लोन पर सब्सिडी दी जाती है।

प्रधानमंत्री आवास योजना का सब्सिडी कैलकुलेटर: https://pmaymis.gov.in/ पर सब्सिडी की गणना करें।

• होम पेज पर सब्सिडी कैलकुलेटर का विकल्प मिलेगा।

• आप एक नया पेज देखेंगे। जिसमें वार्षिक आय, ऋण की राशि और ऋण की अवधि भरनी होगी।

• विवरण भरने के बाद स्क्रीन पर सब्सिडी की राशि दिखाई देगी।

भारत के कुछ राज्यों ने प्रधानमंत्री आवास योजना से सबसे अधिक लाभ लिया है। इनमें शामिल हैं: झारखंड, ओडिशा, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान और पश्चिम बंगाल।

1. प्रधानमंत्री आवास योजना का ऑनलाइन आवेदनप्रधानमंत्री आवास योजना की आधिकारिक वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/ पहले देखें।

2।तब आप मुख्य पेज पर “नागरिक आकलन” का विकल्प देखेंगे।

3।क्लिक करने के बाद, “ऑनलाइन आवेदन” का विकल्प चुनें।

4।अब ऑनलाइन आवेदन करने के लिए विकल्प “इन सीटू स्लम रिडेवलपमेंट” पर जाएं।

5।जिसमें आपको नाम और आधार नंबर भरना होगा। इसके बाद विवरण को सत्यापित करने के लिए चेक पर क्लिक करें।

6:अब फ़ॉर्मेट ए खुलेगा। राज्य का नाम, जिला, शहर, योजना/विकास क्षेत्र, परिवार के मुखिया का नाम, लिंग, पिता का नाम, परिवार के मुखिया की आयु, वर्तमान पता, संपर्क दौरा और स्थाई पता शामिल हैं।

7:आपको आधार नंबर देखने के बाद पहचान पत्र देना होगा।

8:सारी जानकारी ठीक से भरें। स्क्रीन पर दिखने वाले कैप्चा भरकर आवेदन को सेव करें।

9. सबमिट करने के बाद आप प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन करेंगे।

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए वेतन प्राप्त करने वाले उम्मीदवारों के लिए आवश्यक दस्तावेज

आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी; जाति का प्रमाण पत्र; आय का प्रमाण पत्र; स्थाई पता का विवरण; पिछले छह महीने का बैंक स्टेटमेंट; फॉर्म 16 या आयकर निर्धारण आदेश; निर्माण के बारे में सभी जानकारी; निर्माण के समझौते की जानकारी; एडवांस की रसीद; शपथ

अन्य लोगों के लिए दस्तावेज

पहचान पत्र (जैसे आधार कार्ड, वेटर आईडी कार्ड, पैन कार्ड, ड्राइविंग लाइसेंस) ; जाति प्रमाण पत्र; आय प्रमाण पत्र; फॉर्म 16,; व्यवसाय की स्थिति के लिए आवश्यक दस्तावेज; • पिछले छह महीने का बैंक रिपोर्ट, • निर्माण की योजना, • एडवांस भुगतान की जानकारी, • समझौते या संपत्ति का आवंटन पत्र, • शपथ पत्र (जिसमें लिखा है कि आप भारत में कोई पक्का मकान नहीं है)

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन

आप चाहें तो प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको सीएससी केंद्र या बैंक में जाना होगा। जो इस योजना के अंतर्गत काम कर रहे हैं. आपको २५ रुपये का भुगतान करना होगा। आपको आवेदन फॉर्म लेकर सभी आवश्यक विवरण भरना होगा। ये जानकारी ऑनलाइन आवेदन में भरी गई जानकारी की तरह होगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए ऑफलाइन आवेदन करने के लिए आवश्यक दस्तावेजों में शामिल हैं: 1. आधार कार्ड; 2. स्थाई पते काबाद में आपके सामने प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए एक ऑनलाइन फार्म प्रस्तुत किया जाएगा।

• फॉर्म स्क्रीन पर खुल जाएगा। उसमें डाउनलोड करने का भी विकल्प होगा।

1. प्रधानमंत्री आवास योजना में आवेदन की स्थितिआप घर बैठे ऑनलाइन इस स्थिति का पता लगा सकते हैं अगर आपका आवेदन स्वीकार हो गया है या नहीं।

2।इसके लिए आपको आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा: https://pmaymis.gov.in

3।अब शहरी सदस्यता का विकल्प चुनें।

4।अब ट्रैक योर असेसमेंट स्टेटस का विकल्प चुनें।

5।अब हस्ताक्षर आईडी या पंजीकृत मोबाइल नंबर के माध्यम से आवेदन की स्थिति देखें।

6|आप असेसमेंट आईडी विकल्प का उपयोग करके असेसमेंट आईडी और पंजीकृत मोबाइल नंबर भरेंगे।

7| दूसरे विकल्प में नाम और मोबाइल नंबर चाहिए होंगे।

8।इसके बाद आपकी आवश्यक जानकारी (राज्य, जिला, शहर, पिता का नाम, आईडी) भरने के बाद आपके सामने आवेदन की प्रगति की सूचना दी जाएगी।

प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवेदन नहीं कर सकते हैं किसी भी व्यक्ति को देश के किसी भी कोने में पक्का मकान है।

.जिन लोगों के पास देश भर में पक्का घर है, वे प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए पात्र नहीं हैं।

• 18 साल से कम और 55 साल से अधिक उम्र वाले लोग

• 18 लाख रुपये से अधिक वार्षिक आय वाले व्यक्ति

• पहले से घर खरीदने वाले जो अन्य सरकारी योजनाओं का लाभ उठा रहे हैं या जिन्होंने सरकारी अनुदान प्राप्त किया है।

सूची में अपना नाम देखने के लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करें

प्रधानमंत्री आवास योजना की लिस्ट में अपना नाम कैसे देखें केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना के लाभार्थियों के नाम को हर साल जारी किया जाता है. सूची में अपना नाम देखने के लिए आपको निम्नलिखित चरणों का पालन करना होगा:

1।आधिकारिक वेबसाइट https://pmaymis.gov.in/ पर पहले जाएं।

2।अब आपको स्थानीय सदस्यता का विकल्प चुनना होगा।

3।नए पेज में, ट्रेक योर असेसमेंट स्टेट्स पर क्लिक करें।

4।अब आपको अपना पंजीकृत नंबर भरना होगा।

5।अब अपने राज्य, जिला और शहर का चुनाव करें.

इसके बाद आपका नाम सूची में दिखेगा या नहीं।

कोरोना महामारी के दौरान बहुत से लोगों ने शहरों से पलायन किया, जो प्रधानमंत्री आवास योजना की उपयोजना अफोर्डेबल रेंटल हाउसिंग कॉम्प्लेक्स से हुआ था। जिसकी मुख्य वजह थी उनके पास काम नहीं था। इसलिए वे किराया नहीं दे पा रहे थे। उस समस्या को देखते हुए, केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना का एक अतिरिक्त कार्यक्रम शुरू किया। जिसमें किफायती दरों पर लोगों को किराये पर अपार्टमेंट मिलते हैं। किराये की लागत कम करने के लिए दूसरे शहर में रहने वाले लोगों को

प्रधानमंत्री आवास योजना का टोल फ्री नंबर और ईमेल आईडी: सरकार ने प्रधानमंत्री आवास योजना से जुड़े किसी भी प्रश्न का जवाब देने या शिकायत करने के लिए एक टोल फ्री नंबर और ईमेल आईडी भी जारी की है।

• टोल फ्री संख्या: 011-23063285 और 011-23060484 • ईमेल आईडी: pmaymis-mhupa@gov.in और public.grievance2022@gmail.com

Story को देखने के लिए click करे :- https://rashtriyabharatmanisamachar.in/

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post