Search
Close this search box.

केजरीवाल की पहली रात तिहाड़ में: सीएम ने पूरी रात बिताई, कभी कुर्सी पर बैठे, तो कभी चलते दिखे; बार-बार पीना {02-04-2024}

केजरीवाल की पहली रात तिहाड़ में: सीएम ने पूरी रात बिताई, कभी कुर्सी पर बैठे, तो कभी चलते दिखे; बार-बार पीना
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने पिछली रात अपनी पहली रात जेल में बिताई। सूत्रों के अनुसार, केजरीवाल ने पूरी रात करवटें बदलते रहे, जिसकी लंबाई 14 फीट थी और चौड़ाई 8 फीट। साथ ही घर से बना खाना आया था।

केजरीवाल की पहली रात तिहाड़ में: सीएम ने पूरी रात बिताई, कभी कुर्सी पर बैठे, तो कभी चलते दिखे; बार-बार पीना

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपनी पहली रात तिहाड़ जेल नंबर दो में बिताई। केजरीवाल ने पहले कभी तिहाड़ जेल नहीं छोड़ा है। यह तीसरी बार है कि वह तिहाड़ जेल गया है। मीडिया ने बताया कि अरविंद केजरीवाल की पहली रात नंबर दो जेल में असहज रही थी। घर से उनके लिए भोजन लाया गया था। यह छोटा बैरक है।मुश्किल बैरक में एक जगह पर रहना, सोना और टॉयलेट हैं। ये एक अत्यधिक सुरक्षित सेल है। करीब आधा दर्जन सीसीटीवी कैमरे उनके सेल के चारों ओर लगाए गए हैं। जेल महानिदेशक इसकी निगरानी करेंगे।

केजरीवाल ने अपनी पहली रात तिहाड़ जेल में बिताई। उन्हें पूरी रात नींद नहीं आई। सूत्रों के अनुसार, केजरीवाल ने पूरी रात करवटें बदलते रहे, जिसकी लंबाई 14 फीट थी और चौड़ाई 8 फीट। रात में वे टीवी नहीं देखते थे। रात को नींद नहीं आने पर सेल में एक कुर्सी पर बैठकर बहुत देर तक विचार करते रहे। इस दौरान उन्हें बार-बार पानी पीना पड़ा। सूत्रों ने बताया कि केजरीवाल ने रात में घर से खाना लाया था

।तीसरी बार कारागार में हैं अरविंद केजरीवाल

यह पहली बार है कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल तिहाड़ जेल में कैद हो गए हैं। यह तीसरी बार है कि वह तिहाड़ जेल गया है। जेल के सूत्रों ने बताया कि केजरीवाल इससे पहले दो बार जेल गए हैं। अन्ना हजारे 2011 में लोकपाल की मांग को लेकर जेल गए थे। भाजपा नेता नितिन गडकरी की मानहानि के मामले में उन्हें मई 2014 में फिर से तिहाड़ जेल भेजा गया था। बाद में केजरीवाल को जेल संख्या चार में डाला गया।

जेल नंबर दो पर हैं अरविंद केजरीवाल

अरविंद केजरीवाल को तिहाड़ की जेल नंबर दो में रखा गया है।सेल की सुरक्षा के लिए भी एक प्रमुख वार्डर तैनात रहेगा। CPR टीम भी 24 घंटे तक निगरानी करेगी। सेल में टेलीविजन उपकरण होगा। साथ ही, वह पुस्तकालय से किताब लेकर पढ़ सकेगा।

सोमवार शाम लगभग 4.02 बजे अरविंद केजरीवाल जेल वैन से तिहाड़ जेल नंबर दो में पहुंचे। जेल में पहुंचने पर उन्हें कार्यालय, या ड्योढ़ी, पर ले जाया गया। जेल अधिकारियों ने उनका नाम और पता पाने के बाद उनका मेडिकल जांच कराया। बाद में उन्हें सेल में भेजा गया। जेल सूत्रों का कहना है कि उन्हें सिर्फ अदालत के आदेश के अनुसार सुविधा दी जाएगी। उन्होंने अदालत से जेल में रहने के दौरान कुछ किताबें और अन्य सामान की मांग की है, जो जेल प्रशासन को दिए गए हैं।जेल प्रशासन इसे प्रदान करेगा।

यह भी पढ़े:-

भारतीय जनता पार्टी के प्रमुख नेता लालकृष्ण आडवाणी को देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान 'भारत रत्न' से सम्मानित किया गया

भारत रत्न से सम्मानित लालकृष्ण आडवाणी; बीते दिन राष्ट्रपति भवन में आयोजित समारोह में उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अन्य विशिष्ट लोग उपस्थित थे. पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer