Search
Close this search box.

अर्थव्यवस्था: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार पांच हफ्तों में लगातार पांचवें मास्टरस्ट्रोक पर पहुंचा {30-03-2024}

अर्थव्यवस्था: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार पांच हफ्तों में लगातार पांचवें मास्टरस्ट्रोक पर पहुंचा

भारत का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार पांचवें सप्ताह बढ़कर 642.631 बिलियन डॉलर पर पहुंच गया। भारतीय रिजर्व बैंक ने ये सूचनाएं दी हैं।

अर्थव्यवस्था: भारत का विदेशी मुद्रा भंडार पांच हफ्तों में लगातार पांचवें मास्टरस्ट्रोक पर पहुंचा

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के नवीनतम आंकड़े विदेशी मुद्रा भंडार को शामिल करते हैं। इन आंकड़ों से पता चलता है कि भारत के विदेशी मुद्रा भंडार में लगातार पांचवें सप्ताह शानदार बढ़ोतरी हुई है। 22 मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 642.631 बिलियन डॉलर तक बढ़ गया है। अब तक यह सबसे उच्च स्तर है।

आरबीआई रिपोर्ट की विशेषता है कि पांचवें सप्ताह में भारत के विदेशी मुद्रा कोष में 140 मिलियन डॉलर की वृद्धि हुई है। शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक ने यह सूचना दी। 2021 ने विदेशी मुद्रा भंडार का सर्वोच्च स्तर देखा था। उस समय विदेशी मुद्रा भंडार 642.453 बिलियन डॉलर था।

आरबीआई ने बताया कि 22 मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में भारत के गोल्ड रिजर्व का मूल्य 347 मिलियन डॉलर बढ़ा है। इस वृद्धि के बाद भारत का गोल्ड रिजर्व 51.487 बिलियन डॉलर का हो गया है। आरबीआई का कहना है कि एसडीआर (विशेष आहरण अधिकार) इस दौरान घट गया है। भारत का GDP 57 मिलियन डॉलर से घटकर 18.219 बिलियन डॉलर पहुंच गया है। आरबीआई के आंकड़ों के अनुसार, आईएमएफ के साथ भारत की आरक्षित स्थिति भी समीक्षाधीन सप्ताह में 27 मिलियन डॉलर कम होकर 4.662 बिलियन डॉलर हो गई।आरबीआई द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार, विदेशी मुद्रा संपत्ति 22 मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में 123 मिलियन डॉलर घटकर 568.264 बिलियन डॉलर हो गई है।

यह भी पढ़े:-

Congress Tax Row: Congress Tax Row को एक बार फिर झटका लगा, आयकर विभाग ने 1700 करोड़ रुपये का डिमांड जारी किया

आयकर विभाग ने कांग्रेस को नवीनतम टैक्स डिमांड नोटिस आकलन (2017-18 से 2020-2021) जारी किया है, जो जुर्माना और ब्याज को शामिल करता है।पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer