Search
Close this search box.

पशुपति पारस: पशुपति पारस आज पटना आकर लालू यादव से मिलेंगे, जो केंद्रीय मंत्री का पद छोड़ दिया है {19-03-2024}

पशुपति पारस: पशुपति पारस आज पटना आकर लालू यादव से मिलेंगे, जो केंद्रीय मंत्री का पद छोड़ दिया है

पशुपति पारस: पशुपति पारस आज पटना आकर लालू यादव से मिलेंगे, जो केंद्रीय मंत्री का पद छोड़ दिया है, लेकिन भाजपा को उम्मीद है कि प्रधानमंत्री मोदी ने मंत्री पद छोड़ दिया है। मंगलवार को सुबह, लोजप सांसद पशुपति कुमार पारस ने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया, जो एक हफ्ते पहले तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की प्रशंसा करते थे। एनडीए के सीट बंटवारे से नाराज होकर उन्होंने यह कदम उठाया।

पशुपति पारस: पशुपति पारस आज पटना आकर लालू यादव से मिलेंगे, जो केंद्रीय मंत्री का पद छोड़ दिया है

बिहार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार से लोक जनशक्ति पार्टी के सांसद पशुपति कुमार पारस ने इस्तीफा दे दिया है। मंगलवार को उन्होंने केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया। लोजपा सांसद पशुपति कुमार पारस, जो एक हफ्ते पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की प्रशंसा कर रहे थे,यह कदम लोजपा सांसद पशुपति कुमार पारस ने उठाया है, जो एक हफ्ते पहले तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व की प्रशंसा कर रहे थे और एनडीए में सीट बंटवारे से नाराज थे।

सोमवार को एनडीए ने बिहार की 40 सीटों को अपने घटक दलों में बाँट दिया। इसमें उनके भतीजे चिराग पासवान को लोक जनशक्ति पार्टी से पांच सीटें मिलीं। दोनों ने हाजीपुर से चुनाव लड़ना चाहा, लेकिन अंततः दिवंगत रामविलास पासवान के बेटे चिराग को मौका मिला।

सोमवार को पारस एनडीए के घटक दलों की बैठक हुई, जिसके बाद दिल्ली में बिहार भाजपा प्रभारी विनोद तावड़े ने बिहार में सत्तारूढ़ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी जनता दल यूनाईटेड के राज्यसभा सांसद संजय झा के साथ सीटों का ऐलान किया. टिकट कटने से नाराज पारस एनडीए के घटक दल सीटों की घोषणा करते समय, तावड़े ने लोक जनशक्ति पार्टी को पांच सीटें दीं।

पारस परेशान हो गए क्योंकि चिराग पासवान की लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) पहले से बता रही थी कि उनके नेता को हाजीपुर और पार्टी को पांच टिकट देने का वादा किया गया था। पिछले हफ्ते बिहार में पारस ने एक संवाददाता सम्मेलन में खुद ही घोषणा की कि सीटों पर उनसे कोई बात नहीं हुई है। भाजपा से किसी का मतलब था। पारस ने शादी करने के बाद शायद इस्तीफा देना पड़ा।

दरअसल, रामविलास पासवान की मृत्यु के बाद चाचा-भतीजा के बीच मतभेद शुरू हो गया, जिससे मामला हाजीपुर सीट पर जाकर अटक गया। दोनों ने इस सीट पर लड़ने के बाद भाजपा ने अंततः चिराग पासवान को चुना। पारस इससे नाराज हो गए।

पिछले हफ्ते बिहार में पारस ने एक संवाददाता सम्मेलन में खुद ही घोषणा की कि सीटों पर उनसे कोई बात नहीं हुई है। भाजपा से किसी का मतलब था। पारस ने शादी करने के बाद शायद इस्तीफा देना पड़ा। दरअसल, रामविलास पासवान की मृत्यु के बाद चाचा-भतीजा के बीच मतभेद शुरू हो गया, जिससे मामला हाजीपुर सीट पर जाकर अटक गया। दोनों ने इस सीट पर लड़ने के बाद भाजपा ने अंततः चिराग पासवान को चुना। पारस इससे नाराज हो गए।

मैंने इस्तीफा दे दिया क्योंकि मेरे साथ नाइंसाफी हुई

मंगलवार को दिल्ली में लोजपा सांसद पशुपति कुमार पारस ने मीडिया को इस्तीफे की सूचना दी। उनका कहना था कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के सैनिक के रूप में मैं अपने पद को पूरी ईमानदारी और लगन से संभाल रहा था। पिछले हफ्ते बिहार में मैंने प्रेस को बताया कि मुझे सीटों को लेकर कोई बात नहीं हुई है। NDP से विधिवत घोषणा का इंतजार कर रहा था। जब एनडीए ने सोमवार को सीट बंटवारे की घोषणा की, तो मुझे पता चला कि मेरे साथ और मेरी पार्टी के साथ भी नाइंसाफी हुई है। मैं केंद्रीय मंत्री पद से इस्तीफा दे देता हूँ।

मंगलवार शाम लालू-तेजस्वी से मुलाकात करने के बाद, भाजपा को अभी भी उम्मीद है कि पशुपति कुमार पारस पटना लौटेंगे। यहां उनकी बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव से मुलाकात का समय भी तय किया जा रहा है। यह भेंट शाम छह बजे होने की उम्मीद है। भाजपा भी पारस से उम्मीद कर रहा है। राज्य के उप मुख्यमंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने पारस को केंद्रीय मंत्रिमंडल में स्थान दिया था। प्रधानमंत्री मोदी अब बिहार में नई पीढ़ी को अवसर देना चाहते हैं। इसके अतिरिक्त कुछ नहीं है। उन्हें उम्मीद थी कि चाचा-भतीजा की बात होगी और समझौता होगा।

यह भी पढ़े:-

UP Board: गुरुजी, अनुमोदन..।आपको कसम है कि अगर फेल हुई तो घरवाले शादी करा देंगे

UP Board Exam 2024 के लिए विद्यार्थियों ने अविश्वसनीय जवाब लिखे: हाल ही में समाप्त हुई यूपी बोर्ड की परीक्षा में विद्यार्थियों ने सवालों के दिलचस्प जवाब लिखे हैं। विद्यार्थियों ने ऐसे जवाब लिखे हैं कि आप लोट-पोट हो सकते हैं। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer