Search
Close this search box.

केरल विधानसभा: विपक्षी उग्र, राज्यपाल के अभिभाषण पर उत्तेजना {25-01-2024}

केरल: बजट सत्र की शुरुआत में, विपक्षी यूडीएफ गठबंधन और कांग्रेस ने राज्यपाल के अभिभाषण पर भड़का, जिसे “यह विधानसभा का अपमान” कहा. हालांकि, राज्यपाल ने अभिभाषण का सिर्फ आखिरी पैराग्राफ पढ़ा और कुछ मिनटों बाद विधानसभा से चले गए।

केरल विधानसभा: विपक्षी उग्र, राज्यपाल के अभिभाषण पर उत्तेजना

बजट सत्र की शुरुआत में हंगामा: राज्यपाल के अभिभाषण से नाराज विपक्ष, ‘लोकतंत्र का मजाक’ कहा

विपक्षी यूडीएफ गठबंधन ने केरल विधानसभा के बजट सत्र में राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान के छोटे अभिभाषण पर असंतोष व्यक्त किया है। कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूडीएफ गठबंधन ने राज्यपाल के छोटे अभिभाषण को विधानसभा में ‘लोकतंत्र का मजाक’ बताया। यूडीएफ ने भी इसे विधानसभा का अपमान बताया। आज से केरल में बजट सत्र शुरू हो गया है।बजट सत्र की शुरुआत में राज्यपाल ने भाषण दिया, लेकिन उन्होंने सिर्फ आखिरी पैराग्राफ पढ़ा और कुछ मिनटों बाद सभा से चले गए।

विपक्षी नेताओं ने तीव्र नाराजगी व्यक्त की

केरल में विपक्ष के नेता वीडी सतीशन ने कहा, “राज्यपाल का अभिभाषण का सिर्फ आखिरी पैरा पढ़ना विधानसभा का अपमान है।” साथ ही, यह संविधान और विधानसभा के कानूनों की अवहेलना है। इसका हम तीव्र विरोध करते हैं। राज्य सरकार और राज्यपाल के बीच चल रहे विवाद का यह बहुत निम्न स्तर है।केरल विधानसभा में वरिष्ठ कांग्रेस नेता तिरुवनचूर राधाकृष्ण और डिप्टी विपक्षी नेता पी के कुनालिकुट्टी ने भी विरोध प्रकट किया। दोनों ने राज्यपाल की सीधी बात को लोकतंत्र का मजाक बताया।

कई मुद्दों पर केरल की एलडीएफ सरकार और राज्यपाल आरिफ मोहम्मद खान आमने-सामने हैं। राज्यपाल द्वारा कई विधेयकों पर हस्ताक्षर नहीं करने के कारण राज्य की विश्वविद्यालयों के कामकाज में तनाव है। बीते दिनों में, सीपीआई (एम), इसकी युथ विंग डेमोक्रेटिक यूथ फेडरेशन ऑफ इंडिया और इसकी छात्र शाखा स्टूडेंट फेडरेशन ऑफ इंडिया ने राज्यपाल का विरोध किया है।

गुरुवार को बजट सत्र की शुरुआत में भी राज्यपाल और राज्य सरकार के बीच यह विवाद दिखाई दिया, जब सुबह 9 बजे राज्यपाल ने विधानसभा में कहा कि वह सिर्फ अभिभाषण का आखिरी पैरा पढ़ेंगे। बाद में सुबह 9.02 बजे उन्होंने अपना भाषण पूरा किया और सुबह 9.04 बजे विधानसभा से भी निकल गए। राज्यपाल ने अपना भाषण, जो 61 पेज का था, केवल अंतिम पैराग्राफ पढ़कर 15 सेकेंड में पूरा किया

यह भी पढ़े:-

 प्रधानमंत्री मोदी ने घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए लोगों से किए नौ आग्रह

लक्षद्वीप के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने फिर से घरेलू पर्यटन को बढ़ावा देने पर जोर दिया|उन्होंने कहा कि सरकार ने 10 हजार जन औषधि केंद्र भी खोले हैं, जहां लोगों को 80% डिस्काउंट पर दवाइयाँ मिल रही हैं। सस्ती दवाइयों ने गरीबों को तीस हजार करोड़ रुपये बचाए हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुजरात में वर्चुअल में खोडलधाम ट्रस्ट कैंसर अस्पताल का शिलान्यास किया। पुरा पढ़े

 

 

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer