Search
Close this search box.

छत्तीसगढ़ चुनाव 2023: कांग्रेस और बीजेपी के घोषणा पत्रों में मुद्दों का विश्लेषण {06-11-2023}

Table of Contents

कर्ज माफी, धान समर्थन मूल्य, और अधिक – छत्तीसगढ़ चुनाव में किन मुद्दों पर हैं कांग्रेस और बीजेपी की भिन्न घोषणाएँ?

 

घोषणा पत्र

CG Election Results: BJP,
Manifestos of the Chhattisgarh Congress and the BJP in 2023: दो चरणों में हो रहे इन चुनावों में 7 और 17 नवंबर को वोटिंग होनी है। अपने घोषणा पत्रों में जनता से जुड़े हुए कई सारे मसलों पर दोनों पार्टियों के वादे करीब-करीब एक जैसे हैं। धान की खरीद फिर से महत्वपूर्ण मुद्दा बना है।
छत्तीसगढ़ चुनाव के लिए कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने घोषणा पत्र जारी कर दिया है। दो चरणों में हो रहे इन चुनावों में 7 और 17 नवंबर को वोटिंग होनी है। अपने घोषणा पत्रों में जनता से जुड़े हुए कई सारे मसलों पर दोनों पार्टियों के वादे करीब-करीब एक जैसे हैं। धान की खरीद फिर से महत्वपूर्ण मुद्दा बना है।

कांग्रेस ने जहां कर्ज माफी और केजी से पीजी तक की शिक्षा में बढ़त लेने की कोशिश की है तो वहीं बीजेपी साल भर में एक लाख नौकरियां देने की बात कह रही है। इसके साथ शहरों को विकसित करने और रायपुर में कॉर्पोरेट कल्चर बनाने पर बीजेपी का जोर दिख रहा है। हम आपको प्वांइट वाइज बता रहे हैं कि किस मुद्दे पर बीजेपी और कांग्रेस ने क्या घोषणाएं की हैं और महत्वपूर्ण मुद्दों पर दोनों की घोषणाओं में क्या अंतर है।

कर्ज माफी:-

कांग्रेस ने किसानों के कर्जमाफी पर बड़ा दांव खेला है। सरकार बनते ही किसानों के कर्ज माफ कर देने का वादा किया है। लेकिन बीजेपी ने ऐसा कोई ऐलान नहीं किया है।

धान का समर्थन मूल्य:-

बीजेपी ने धान का समर्थन मूल्य 3100 रुपए कुंतल प्रति एकड़ का ऐलान किया है। वही कांग्रेस ने धान के समर्थन मूल्य को 3200 रुपए प्रति कुंतल देने की घोषणा की है। साथ में यह भी वादा किया है कि 20 क्विंटल प्रति एकड़ धान खरीदी करेंगे।

सिलेंडर में सब्सिडी:-

दोनों पार्टियों ने सब्सिडी वाले सिलेंडरों के दाम 500 रुपए रखने का ऐलान किया है।

निःशुल्क पढ़ाई:-

बीजेपी ने कॉलेज जाने वाले छात्रों को मासिक ट्रैवल अलाउंस यानी एमएसटी देने की घोषणा की है। वही कांग्रेस ने केजी से पीजी तक की पढ़ाई फ्री करने का ऐलान किया है। साथ ही सरकारी स्कूलों को स्वामी आत्मानंद स्कूल बनाने और 6 हजार स्कूलों को अपग्रेड करने का वादा किया है।

चिकित्सा सुविधा:-

बीजेपी ने 10 लाख रुपए तक के इलाज के खर्च को फ्री कर देने की घोषणा की है और 500 नए जन औषधि केंद्र खोलने का दावा किया है। जबकि कांग्रेस ने भी 10 लाख रुपए तक के इलाज की सुविधा मुफ्त करने के ऐलान के साथ गरीबी रेखा से ऊपर यानी APL कार्ड धारकों को भी 5 लाख तक के इलाज में सहायता करने की घोषणा की है।

आवास:-

बीजेपी के घोषणा पत्र में जहां 18 लाख पीएम आवास बनाने की बात कही गई है वही कांग्रेस के मेनिफेस्टो में 7.5 लाख परिवारों का मकान बनाने वादा है।

नौकरी:-

बीजेपी ने एक साल के अंदर सरकारी पदों पर 1 लाख तक भर्तियां करने का ऐलान किया है। कांग्रेस के घोषणा पत्र में इस मामले में स्पष्टता नहीं दिखी है।

युवाओं को लोन:-

नए कारोबार के लिए बीजेपी ने युवाओं को 50% सब्सिडी के दर पर लोन देने का वादा किया है। युवाओं के लिए 50 प्रतिशत की ही लोन सब्सिडी देने का वादा किया गया है।

बिजली:-

बीजेपी के घोषणा पत्र में बिजली सब्सिडी पर कोई साफ वादा नहीं किया गया है। कांग्रेस 200 यूनिट तक बिजली फ्री करने ऐलान है।

तेंदू पत्ता:-

बीजेपी ने तेंदू पत्ता जुटाने वालों को 5500 रुपए देने का ऐलान किया है। कांग्रेस ने तेंदू पत्ता संग्रहकों को 6000 रुपए देने की घोषणा की है।

कांग्रेस और बीजेपी ने इन मुद्दों पर ली है बढ़त:-

यहां दिखी कांग्रेस की बढ़त:-

कांग्रेस ने सरकार बनने पर जातीय जनगणना कराने का दांव खेला है। हालांकि कांग्रेस के चुनावी घोषणा पत्र की मुख्य बात सरकार बनते ही किसानों के कर्ज माफ करने की घोषणा है। यह योजना किसानों के बीच कांग्रेस को बढ़त दिला सकती है। क्योंकि पिछली सरकार के बनते ही सबसे पहले इस वादे को पूरा किया गया था। इसके अलावा कांग्रेस ने 66 हजार वाहन मालिकों के भी लोन माफ करने की बात कही है। स्व समूहों के कर्च माफी की बात कांग्रेस के घोषणा पत्र में है।

यहां बीजेपी है मजबूत:-

बीजेपी मुख्य फोकस युवाओं की नौकरी पर है। इसने एक साल के अंदर 1 लाख शासकीय पदों को भरने की घोषणा की है। इसके अलावा कार्पोरेट कल्चर को बढ़ावा देने के लिए नया रायपुर में सेंट्रल इनोवेशन हब खोलने की बात कही गई है। इसमें छह लाख नौकरियां देने का वादा किया गया है। नौकरी की पारदर्शिता पर भी बीजेपी मुखर है। – CGPCS UPSC – CGPCS UPSC बीजेपी ने महिला वोटरों पर दांव खेलते हुए महतारी वंदन योजना का ऐलान किया है। इसके तहत 12000 रुपए प्रति वर्ष की आर्थिक सहायता होगी।

कांग्रेस का घोषणा पत्र एक नजर में:-

1. सरकार बनते ही किसानों का कर्जा माफ करेंगे

2. 20 क्विंटल प्रति एकड़ धान खरीदी करेंगे

3. केजी से पीजी तक की पढ़ाई फ्रीघोषणा पत्र

4. तेंदूपता संग्रहको को 6 हजार

5. भूमिहीन किसानों को 10 हजार प्रति वर्ष भत्ता

6. धान प्रति क्विंटल 3200 रुपए का ऐलान

7. 200 यूनिट तक बिजली फ्री

8 सभी को गैस सिलेंडर 500 रुपए में, सब्सिडी सरकार देगी

9. साढ़े 7 लाख परिवारों के मकान बनाएंगे

10.10 लाख तक इलाज की सुविधा, गरीबी रेखा से ऊपर को भी 5 लाख तक की सहायता

11. तिवरा समर्थन मूल्य पर खरीदेंगे

12. 66 हजार वाहन मालिकों का कर्ज माफ करेंगे।

13. 700 ग्रामीण पार्कों की स्थपाना

14. सभी स्कूल बनेंगे स्वामी आत्मानंद स्कूल, 6 हजार स्कूल अपग्रेड होंगे

15. स्वयं सहायता समूहों के कर्ज माफ करेंगे

16. जातिगत जनगणना कराएंगे

16. युवाओं को 50 प्रतिशत की लोन सब्सिडी

17. अंतिम संस्कार के लिए सरकार देगी लकड़ी

बीजेपी का घोषणा पत्र एक नजर में:-

1. 21 कुंतल प्रति एकड़ धान खरीदी 3100 रुपए पर खरीदी

2. महतारी वंदन योजना में 12000 प्रति वर्ष भत्ता

3. 18 लाख पीएम आवास बनाएंगे

4. तेंदू पत्ता संग्रहण 5500 पर

5. 10 लाख तक फ्री उपचार, 500 नए जन औषधि केंद्र

6. यूपीएससी को तर्ज पर स्टेट परीक्षाएं होंगी

7. युवाओं को को 50 प्रतिशत लोन

8. गरीब परिवार को 500 में गैस सिलेंडर

9. एम्स की तर्ज पर नए संस्थान बनेंगे

10. छात्र-छात्राओं को मासिक ट्रैवेल अलाउंस

11. एक साल में 1 लाख सरकारी पदों पर भर्तियां

12. नया रायपुर में इनोवेशन हब, इसमें 6 लाख नौकरियां

13. भूमिहीन खेतिहर मजदूरों को 10 हजार प्रतिवर्ष का भत्ता

14. रायपुर, नया रायपुर, दुर्ग और भिलाई को मिलाकर स्टेट कैपिटल रीजन की घोषणा

15. बालिकाओं के जन्म पर 1.5 लाख का आश्वासन प्रमाण पत्र

16. चरण पादुका योजना फिर से होगी लॉन्च करने का ऐलान

17. छत्तीसगढ़ में रामलला दर्शन योजना

 

यह भी पढ़े:-

अजय चौटाला: जजपा राजस्थान में नई राजनीतिक रफ्तार और चुनौतियों के सामने

जजपा की चाबी से ही खुलेगा राजस्थान विधानसभा का ताला’, इस बयान के साथ अजय चौटाला ने राजनीतिक हलचल में एक नई रफ्तार को देखाया।

जजपा की चाबी से ही खुलेगा राजस्थान विधानसभा का ताला'

जननायक जनता पार्टी के प्रमुख अजय चौटाला ने हाल ही में राजस्थान में एक जनसभा को संबोधित किया जहाँ उन्होंने अपनी पार्टी की मजबूती और आने वाले समय में राजस्थान में उनकी पार्टी की महत्वकांक्षाओं को साझा किया।

खबर को पुरा पढ़ने के लिए click करे :-rashtriyabharatmanisamachar

 

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post