Search
Close this search box.

“बाइडेन बोले- गाजा पर कब्जा करना इजरायल के लिए होगी बड़ी गलती: कहा- हमास का खात्मा भी जरूरी; सैटेलाइट फोटो में दिखी इजरायल में तबाही”{16-10-2023}

 के लिए होगी बड़ी गलती:

बाइडेन बोले- गाजा पर कब्जा करना इजरायल के लिए होगी बड़ी गलती: कहा- हमास का खात्मा भी जरूरी; सैटेलाइट फोटो में दिखी इजरायल में तबाही
तेल अवीव1 घंटा पहलेलेखक: वैभव पलनीटकर

हमास के बारे में बाइडेन का कहना

इजराइल-हमास युद्ध के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि

बाइडेन बोले- गाजा पर कब्जा करना

हमास का अंत जरूरी है लेकिन गाजा पर कब्जा करना इजराइल के लिए बड़ी गलती होगी.
उन्होंने कहा- हमास ने बर्बरता की है. इस संगठन को ख़त्म करना ज़रूरी है. लेकिन फ़िलिस्तीनी लोगों के लिए भी एक देश होना चाहिए, एक अलग सरकार होनी चाहिए।

 

इजराइल के लिए गाजा पर कब्जा करना

वहीं, अगर इजरायल ने गाजा पर कब्जा कर लिया तो यह एक बड़ी गलती होगी। समाचार एजेंसी एपी के मुताबिक, बिडेन आने वाले दिनों में इजरायल का दौरा कर सकते हैं। एपी ने व्हाइट हाउस के एक अधिकारी के हवाले से कहा कि बिडेन की इजरायल यात्रा की तारीख अभी तय नहीं हुई है।

सैटेलाइट फोटो में इजराइल की तबाही

इधर, इजराइल डिफेंस फोर्स ने हमास के हमले से पहले और बाद की सैटेलाइट तस्वीरें शेयर कीं. इसमें जली हुई इमारतें और काला धुंआ दिखाया गया है।

इजराइल-हमास युद्ध का दसवां दिन

7 अक्टूबर को शुरू हुए युद्ध का आज 10वां दिन है। इजरायली हमलों में अब तक गाजा में 2,450 फिलिस्तीनियों की मौत हो चुकी है। इनमें 724 से ज्यादा बच्चे और 370 से ज्यादा महिलाएं शामिल हैं। वहीं, हमास के हमले में करीब 1,400 इजरायली मारे गए हैं.

हमास के रॉकेट हमले

हमास ने दावा किया था कि उसने 7 अक्टूबर को इजराइल पर 5,000 रॉकेट दागे थे.

वेस्ट बैंक में इजराइली सैनिकों का धावा

गाजा के बाद वेस्ट बैंक में भी दिखे इजरायली सैनिक अलजजीरा के मुताबिक, इजरायली सैनिकों ने वेस्ट बैंक पर धावा बोल दिया है. इस दौरान जेरिको के अकाबत जब्र कैंप में रहने वाले एक फिलिस्तीनी की मौत हो गई है. यहां से कई फिलिस्तीनियों को गिरफ्तार भी किया गया है. युद्ध शुरू होने के बाद से वेस्ट बैंक में 53 लोग मारे गए हैं। 1,100 लोग घायल हुए हैं.

इजराइली सैनिकों के गिरफ्तार

इज़रायली सैनिकों ने पूर्वी येरुशलम, नब्लस, बेथलेहम, हेब्रोन और जेरिको में अक़बत जब्र शिविर से लोगों को गिरफ्तार किया है।

गाजा के लोगों की समस्या

इजराइल गाजा से लोगों को निकालने पर आमादा है, लेकिन सवाल ये है कि यहां से निकाले जाने के बाद गाजा के लोग कहां शरण लेंगे. 15 अक्टूबर को मिस्र ने स्पष्ट कर दिया कि वह गाजा के लोगों को अपने सिनाई रेगिस्तान में रहने की अनुमति नहीं देगा।

मिस्र की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की बैठक

रविवार को मिस्र सरकार की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद की आपात बैठक हुई. इसकी अध्यक्षता राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल सिसी ने की. बैठक के बाद जारी बयान में सीसी ने कहा- हमारी सुरक्षा हमारी लक्ष्मण रेखा है और इस मामले में कोई समझौता नहीं किया जाएगा.
इस बयान का मतलब साफ है कि मिस्र गाजा से 20 लाख से ज्यादा लोगों को अपने देश में आने की इजाजत नहीं देगा. इससे पहले कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया था कि मिस्र सिनाई इलाके में अस्थायी कैंप बनाकर इन लोगों को रहने की इजाजत दे सकता है।

अब संयुक्त राष्ट्र के सामने सबसे बड़ी समस्या इन लोगों को शरण देना है, क्योंकि इजराइल कभी भी गाजा में जमीनी कार्रवाई शुरू कर सकता है.

इजरायली सेना जमीनी हमले के लिए तैयार, सरकार से हरी झंडी का इंतजार

इजरायली सेना ने गाजा में सैन्य ऑपरेशन की पूरी तैयारी कर ली है. सेना के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट जनरल डेनियल हेगेरी ने रविवार रात कहा- हम बिल्कुल तैयार हैं। बस शासन से हरी झंडी मिलने का इंतजार है। हम उनसे इस बारे में बात भी कर रहे हैं.’
प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने 15 अक्टूबर को गाजा सीमा पर इजरायली सैनिकों से मुलाकात की. उन्होंने इस सवाल का जवाब नहीं दिया कि इजरायली सेना जमीनी कार्रवाई कब शुरू करेगी. न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक, इजरायली डिफेंस फोर्स के 10 हजार सैनिक गाजा में जमीनी हमले के लिए तैयार हैं. सीमा पर कई सौ इजरायली टैंक तैनात हैं.

इजराइल के जमीनी हमले से पहले ही गाजा में 64 हजार से ज्यादा इमारतें तबाह हो चुकी हैं.

महत्वपूर्ण अपडेट…

• अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन आज इजराइल लौट रहे हैं। पिछले हफ्ते इजराइल पर हमास के हमले के बाद वह तेल अवीव पहुंचे थे. इसके बाद वह यहां से जॉर्डन, सऊदी अरब और मिस्र के दौरे पर गए।

• अमेरिका समुद्री रास्ते से अपने नागरिकों को इजराइल से छुड़ाएगा.

• अमेरिकी विदेश विभाग पेंटागन ने 15 अक्टूबर को कहा कि हमास के हमलों में अब तक 29 अमेरिकी मारे गए हैं. इसके अलावा 14 लापता हैं.

• अलजजीरा के मुताबिक, 15 अक्टूबर को अमेरिकी विमानवाहक पोत यूएसएस ड्वाइट डी. आइजनहावर को भूमध्य सागर की ओर भेजा गया था. इस इलाके में अमेरिका का यूएसएस जेराल्ड आर फोर्ड युद्धपोत पहले से ही तैनात है.
भास्कर रिपोर्टर ग्राउंड पर मौजूद हैं

अब तक हमास के 3 कमांडर मारे जा चुके हैं

रविवार को सेना ने कहा कि उसने हमास के एक कमांडर को मार गिराया है जिसने किबुत्ज़ निरिम और किबुत्ज़ निर ओज़ में हमले किए थे। सेना ने कहा- हमास की नुखबा यूनिट का कमांडर बिलाल अल-केदरा मारा गया है.
इससे पहले 14 अक्टूबर को इजरायली सेना ने हमास के दो शीर्ष कमांडरों को मार गिराया था.

इजरायल

सेना ने कहा कि उन्होंने कमांडर अली कादी को मार डाला है, जिन्होंने 7 अक्टूबर को इजरायल पर हमले का नेतृत्व किया था. अली कादी को मारने का काम इजरायल की आंतरिक खुफिया एजेंसी शिन बेट ने किया था. इसी तरह हमास के वायुसेना प्रमुख मुराद अबू मुराद भी इजरायली हमले में मारे गए.

यूएन ने कहा-

गाजा के अस्पतालों में 24 घंटे की आपातकालीन बिजली बची हुई है 10 अक्टूबर को इजराइल ने गाजा को पानी और बिजली की आपूर्ति रोक दी. इससे वहां पानी खत्म होने की कगार पर है । यूएन ने कहा है कि इससे 20 लाख लोगों की जिंदगी खतरे में है. वहां के अस्पतालों में 24 घंटे आपातकालीन बिजली बची हुई है.

इसके बाद अस्पतालों में रखे उपकरण काम करना बंद कर देंगे । इससे मरीजों की जान को खतरा है । इससे पहले विश्व स्वास्थ्य संगठन का कहना है कि गाजा के अस्पतालों में भर्ती मरीजों को देश छोड़ने के लिए मजबूर करना मौत की सजा के समान है.

 

दरअसल, इजरायली हमलों में 19 से ज्यादा अस्पताल क्षतिग्रस्त हो गए हैं. 20 से ज्यादा एंबुलेंस नष्ट हो गई हैं. ऐसे में मरीज को बाहर भी निकाला जा रहा है. गाजा के ही दूसरे सुरक्षित अस्पतालों में भी उन्हें जगह नहीं मिल रही है क्योंकि वहां हजारों घायलों का इलाज चल रहा है.

मरीज़ देश छोड़ने को भी मजबूर हैं. इज़राइल ने 9 अक्टूबर को गाजा को पानी और बिजली की आपूर्ति रोक दी थी । इससे वहां पानी खत्म होने की कगार पर है । हमास लड़ाकों के शवों से कोडित दस्तावेज़ मिले इजराइल के साथ युद्ध में मारे गए हमास लड़ाकों के शवों और उनकी गाड़ियों के पास से कई दस्तावेज बरामद हुए हैं.

कोडवर्ड में लिखे इन दस्तावेजों में हमास की इजरायल पर हमले की योजना का जिक्र है. टाइम्स ऑफ इजराइल के मुताबिक, दस्तावेजों में इजराइली लोगों के अपहरण और हत्या के निर्देश थे । पढ़ें विस्तार से. गाजा में इजरायली हमले की तस्वीरें. गाजा शहर में इजरायली हमले में 19 अस्पतालों समेत 90 शिक्षण संस्थान नष्ट हो गए हैं.

गाजा में रहने वाले लाखों लोग बेघर हो गए हैं. गाजा से ज्यादातर फिलिस्तीनी नागरिक मिस्र जाना चाहते हैं, लेकिन वहां की सरकार उन्हें शरण देने से इनकार कर रही है. हमास को इजराइली सेना के राज पता थे हमास की योजना के दस्तावेज, वीडियो और इजरायली सेना के अधिकारियों के कुछ बयान सामने आए.

 इजरायल

इससे यह साफ होता है कि लड़ाकों को इजरायली सेना के कामकाज की सटीक जानकारी थी. वह जानता था कि विशिष्ट सेना इकाई कहाँ तैनात है । इतना ही नहीं, हमास के लड़ाकों को इस बात की भी जानकारी थी कि सेना को किस इलाके में पहुंचने और फिर से संगठित होने में कितना समय लगेगा.

इजराइल में हमास के हमले की तस्वीरें. हमास के हमले के बाद हजारों लोग मारे गये. अश्कलोन शहर में अपनों को खोने के बाद रोता हुआ एक परिवार । इजरायली सेना लगातार गाजा में मिसाइलें दाग रही है. इजरायली सेना ने हमास के खिलाफ’ स्वोर्ड्स ऑफ आयरन’ ऑपरेशन शुरू किया.

दरअसल, अप्रैल 2023 में इजरायली पुलिस ने अल- अक्सा मस्जिद पर ग्रेनेड फेंके थे. वहीं, हमास के प्रवक्ता गाजी हमद ने अल जजीरा से कहा- यह कार्रवाई उन अरब देशों को हमारा जवाब है जो इजरायल से नजदीकियां बढ़ा रहे हैं. मध्य पूर्व के इस क्षेत्र में यह संघर्ष कम से कम 100 वर्षों से चल रहा है ।

वेस्ट बैंक, गाजा पट्टी और गोलान हाइट्स जैसे इलाकों को लेकर विवाद है. फ़िलिस्तीन पूर्वी येरुशलम सहित इन क्षेत्रों पर अपना दावा करता है । वहीं, इजराइल येरुशलम पर अपना दावा छोड़ने को तैयार नहीं है. गाजा पट्टी इजराइल और मिस्र के बीच है. यह जगह फिलहाल हमास के नियंत्रण में है.

यह इजराइल विरोधी समूह है. फ़िलिस्तीन का कहना है कि वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी में एक स्वतंत्र फ़िलिस्तीन राज्य की स्थापना चाहिए ।

Story देखने के लिए click kare:-/rashtriyabharatmanisamachar.in

यह भी पढ़े

ईरान और इजरायल: संबंधों में तनाव, हमास के मुद्दे पर चुनौतियां और शांति की तलाश {15-10-2023}

साम्प्रदायिक तनाव: ईरान और इजरायल के बीच के संबंध

ईरान और इजरायल के बीच के संबंध विशेष रूप से आलोचनाओं और तनावों से भरपूर रहे हैं, और हाल में ईरान ने इस संबंध में एक और चुनौती दी है। वे हमास के साथ चल रहे युद्ध को बढ़ावा देने के इजरायल के प्रयासों को नकारते हुए कह रहे हैं कि

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer