Search
Close this search box.

वायु प्रदूषण: दिल्ली में जहरीली हवा का कहर, AQI की चिंता क्यों? {08-11-2023}

वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में, वायु प्रदूषण से जहरीली हवा की बढ़ती समस्या के साथ जानिए AQI और अन्य ताजगी:-

वायु प्रदूषण: दिल्ली में जहरीली हवा का कहर, AQI की चिंता क्यों? {08-11-2023}
वायु प्रदूषण: दिल्ली में जहरीली हवा का कहर, AQI की चिंता क्यों? {08-11-2023}

Air Pollution: राजधानी में जहरीली हवा का कहर, लोगों को सांस लेने में हो रही परेशानी; जानिए आज क्या है AQI
बुधवार सुबह को आनंद विहार में एक्यूआई 452, आरके पुरम में 433, पंजाबी बाग में 460 और आईटीओ में 413 दर्ज किया गया।
केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के अनुसार, दिल्ली भर में वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में बनी हुई है। बुधवार सुबह को आनंद विहार में एक्यूआई 452, आरके पुरम में 433, ओखला में 426, पंजाबी बाग में 460, श्री अरबिंदो मार्ग में 382 शादीपुर में 413 और आईटीओ में 413 दर्ज किया गया|

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट द्वारा कल दिए गए निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए आज सभी संबंधित विभागों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत, राजस्व मंत्री आतिशी भी शामिल होंगी।

टेक्निकल और ऑपरेशनल स्टाफ की एक टीम कनॉट प्लेस स्थित ‘स्मॉग टावर’ पहुंची है। उच्चतम न्यायालय ने कल सरकार को स्मॉग टॉवर की मरम्मत करने का निर्देश दिया था।

वायु प्रदूषण से जहरीली हवा की बढ़ती समस्या:-

राष्ट्रीय राजधानी में कई निवासियों और यात्रियों ने सांस लेने में समस्याओं की शिकायत की और सरकार और संबंधित अधिकारियों से जल्द से जल्द बढ़ते वायु प्रदूषण को रोकने के लिए कदम उठाने का आग्रह किया। बिगड़ती वायु गुणवत्ता पर चिंता व्यक्त करते हुए एक यात्री ने एएनआई को बताया, ‘यह जहरीली हवा हमें सांस लेने में समस्या पैदा कर रही है। सरकार को हमें कुछ राहत दिलाने के लिए तत्काल कदम उठाने चाहिए।’

वायु प्रदूषण से जहरीली हवा की बढ़ती समस्या
वायु प्रदूषण से जहरीली हवा की बढ़ती समस्या

भारतीय उष्णकटिबंधीय मौसम विज्ञान संस्थान के मुताबिक, मंगलवार को दिल्ली में प्रमुख सतही हवा दक्षिण-पश्चिम व उत्तर-पूर्व दिशाओं से चार से आठ किमी प्रति घंटे की गति से चली। दिन में धूप खिली और रात के तापमान में करीब 1.5 डिग्री सेल्सियस की बढ़त हुई। हवा के दिशा में आए बदलाव और अनुकूल मौसम के बाद भी प्रदूषण में मामूली सुधार दर्ज किया गया। सोमवार को दिल्ली का एक्यूआई 421 था, जो मंगलवार को घटकर 395 हो गया। बुधवार को एक बार फिर हवा की दिशा में बदलाव की आशंका है।

 

जहरीली हवा का कहर,आधी दिल्ली में एक्यूआई 400 पार:-

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक, मंगलवार शाम को दिल्ली के आधे से अधिक केंद्रों पर प्रदूषण का स्तर 400 पार दर्ज किया गया। बोर्ड 34 केंद्रों से प्रदूषण डाटा एकत्रित करता है। इनमें से आनंद विहार में सबसे ज्यादा 448 एक्यूआई दर्ज किया गया। शादीपुर, डीटीयू, आरके पुरम, पंजाबी बाग, मथुरा रोड, आईजीआई एयरपोर्ट, नेहरू नगर, द्वारका सेक्टर 8, पटपडगंज, डॉ. करण सिंह शूटिंग रेंज, जहांगीरपुरी, रोहिणी, विवेक विहार, नरेला, ओखला, मुडंका, आनंद विहार में एक्यूआई 400 से अधिक रहा।

10 को बूंदाबादी के आसार:-

दिल्ली में 10 नवंबर को हल्की बूंदा बांधी के आसार हैं। प्रादेशिक मौसम विज्ञान केंद्र के मुताबिक 13 नवंबर तक सुबह धुंध छाया रह सकता है। साथ ही 10 नवंबर को मौसमी दिशाओं में बदलाव के कारण कुछ एक जगहों पर हल्की बूंदा-बांदी हो सकती है।

 

यह भी पढ़े:-

दिल्ली-एनसीआर में बढ़ते वायु प्रदूषण के खिलाफ चुनौतियों का सामना {04-11-2023}

चिंता: दिल्ली-एनसीआर में वायु प्रदूषण का तेज बढ़ता स्तर:-

राजधानी दिल्ली-एनसीआर में इन दिनों वायु प्रदूषण का स्तर काफी तेजी से बढ़ता हुआ देखा जा रहा है। पिछले सात दिनों में यहां की वायु गुणवत्ता (एक्यूआई) में तेजी से गिरावट आई है।

एक्यूआई में गिरावट: पिछले सात दिनों की चुनौती:-

शनिवार को दिल्ली के ज्यादातर इलाकों का एक्यूआई ‘बहुत खराब स्तर’ में 400 के पार दर्ज किया गया है। इस तरह की वायु गुणवत्ता को सेहत के लिए कई प्रकार से नुकसानदायक माना जाता है।

अलर्ट रहने की आवश्यकता:दिल्ली-एनसीआर के ज्यादातर इलाकों में ‘बहुत खराब स्तर‘:-

विशेषज्ञों का कहना है कि अगले 15-20 दिनों तक यहां इसी तरह की स्थिति बनी रह सकती है, ऐसे में सभी लोगों को अलर्ट रहने और बचाव को लेकर उपाय करते रहने की आवश्यकता है। इस बीच एक रिपोर्ट में वैज्ञानिकों ने दिल्ली में साल-दर-साल बढ़ते प्रदूषण को लेकर चिंता जताई है।

 

खबर को पुरा पढ़ने के लिए click करे:-rashtriyabharatmanisamachar

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post