Search
Close this search box.

बहादुरगढ़: अर्बन एक्सटेंशन रोड-2 का मार्च तक पूरा होने का इंतजार {01-01-2024}

Bahdurgarh: अर्बन एक्सटेंशन रोड-2 मार्च तक पूरा हो जाएगा। सर्विस लेन पर दौड़ रहे वाहनों से हवाई अड्डा जाना आसान होगा

अर्बन एक्सटेंशन रोड-2
अर्बन एक्सटेंशन रोड-2

अर्बन एक्सटेंशन रोड-2 दिल्ली का तीसरा रिंग रोड बन जाएगा। इस सड़क के निर्माण से दिल्ली के बाहर रिंग रोड पर भीड़भाड़ कम होगी। यह राजमार्ग चार से छह लेन का है। इसका निर्माण 7,700 करोड़ रुपये से अधिक खर्च होगा।

अर्बन एक्सटेंशन रोड-2 (यूईआर-2) का निर्माण तेजी से चल रहा है. इसका उद्देश्य राजधानी दिल्ली में वाहनों की भीड़ को कम करना है और दिल्ली बस अड्डे और कई अन्य क्षेत्रों में परिवहन को आसान बनाना है। यह रोड बहादुरगढ़ और राज्य के अन्य जिलों से हवाई अड्डे तक पहुंचने में बहुत सहायक होगा। फिर भी, सर्विस लेन वाहनों के लिए खुला है। यहां से वाहन गुजर रहे हैं। फ्लाईओवर पर वाहन अभी नहीं चल रहे हैं। सड़क पर लाइटों के लिए खंभे तो लगाए गए हैं, लेकिन लाइटों को लगाने का काम अभी नहीं शुरू हुआ है। यह काम बहुत जल्द शुरू हो जाएगा।

 

प्रदूषण कम करने में प्रभावी होगा

यूईआर-2 दिल्ली का तीसरा रिंग रोड बन जाएगा। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण कर रहा है जो थमे हुए यातायात को रफ्तार देगा। यह भी दिल्ली-एनसीआर में प्रदूषण को कम करने में मदद करेगा। 2021 में इसका निर्माण शुरू हुआ था इसका निर्माण 2021 में शुरू हुआ था और मार्च 2024 में पूरा होना है। NHAI ने परियोजना का निर्माण 5 भागों में बांटा।

इसका निर्माण 7,700 करोड़ रुपये से अधिक खर्च होगा। परियोजना निदेशक फिरोज खान ने बताया कि यह राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 344एम है। रोड का काम 95 प्रतिशत से अधिक पूरा हो चुका है। यह लगभग 75.7 किमी लंबा होगा। इस सड़क के निर्माण से दिल्ली के बाहर रिंग रोड पर भीड़भाड़ कम होगी। यह राजमार्ग चार से छह लेन का है। यह दिल्ली-चंडीगढ़ राजमार्ग से शुरू होता है और फिर मुंडका, बक्करवाला, नजफगढ़ और द्वारका से गुजरते हुए महिपालपुर के पास दिल्ली-गुरुग्राम एक्सप्रेस-वे पर खत्म होता है।

नेशनल हाईवे नंबर 9 इसे बहादुरगढ़ से जोड़ता है, इससे भी आसानी से एनएच-44 तक पहुंच सकते हैं। यूईआर-2 के माध्यम से गुुरुग्राम, आईजीआई एयरपोर्ट और पश्चिमी-दक्षिणी दिल्ली से लोग एनएच-44 तक आसानी से पहुंच सकेंगे। इससे चंडीगढ़, पंजाब और जम्मू-कश्मीर जाने में आसानी होगी। साथ ही, इस परियोजना के पूरा होने से आसपास के क्षेत्रों में सामाजिक और आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा। रोड पर लगभग पूरी तरह से ट्रैफिक लाइट उपलब्ध होगी।

दिल्ली के बाहर रिंग रोड पर भीड़भाड़ को कम करेगा

द्वारका से एनएच-2 गुजरेगा अगर केवल दिल्ली की बात की जाए तो यह एक्सप्रेस-वे अलीपुर के बकोली गांव से शुरू होकर बवाना औद्योगिक क्षेत्र, रोहिणी, मुंडका, बक्करवाला, नजफगढ़ और द्वारका से गुजरेगा। इसकी पहली चार लेन दिल्ली के बवाना औद्योगिक क्षेत्र से शुरू होकर एनएच-352 ए पर हरियाणा के सोनीपत के गांव बड़वासनी तक जाएगी।

इसके बाद, छह लेन बक्करवाला से शुरू होकर एनएच-9 पर हरियाणा के बहादुरगढ़ बाईपास तक जाएगी। इस सड़क का लगभग आधा किलोमीटर का हिस्सा बहादुरगढ़ में बनाया जा रहा है। Road को NH-9 से जोड़ने के लिए बहादुरगढ़ बाईपास से एक पुल बनाया जा रहा है। इसकी दूरी दिल्ली के दिचाऊ कलां से बहादुरगढ़ बाईपास तक 7.3 किलोमीटर होगी।
इन पांच पैकेजों में यह बहुत महत्वाकांक्षी रोड बनाया जा रहा है, प्रत्येक पैकेज की लंबाई किमी है और लागत करोड़ों रुपये है।

1. एनएच-1 से कराला-कंझावला रोड 15,552
2. नांगलोई-नजफगढ़ रोड से कराला-कंझावला रोड 13.450 1,121
3.नांगलोई सेक्टर-24 रोड से द्वारका सेक्टर-24 रोड 9.661 685.31
4. बवाना औद्योगिक क्षेत्र से सोनीपत के गांव बड़वासनी तक 29.6 694
5. बक्करवाला से बहादुरगढ़ बाईपास के निकट यूईआर-2 7.269 324

यह भी पढ़े:-

सरकार का खास तोहफा:  मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना अयोध्या में रामलला के दर्शन का मौका!

 हरियाणा सरकार की मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के तहत बुजुर्गों को ले जाएगी

Haryana समाचार: हरियाणा के लोगों के लिए अच्छी खबर है कि 22 जनवरी के बाद सरकार बुजुर्गों को अयोध्या ले जाएगी, जहां वे श्री राम लला को देख सकेंगे।पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer