Search
Close this search box.

Ishaq Dar: नवाज के खास को शहबाज सरकार ने उप-प्रधानमंत्री बनाकर वित्त मंत्रालय की भरपाई {29-04-2024}

Ishaq Dar: नवाज के खास को शहबाज सरकार ने उप-प्रधानमंत्री बनाकर वित्त मंत्रालय की भरपाई

Ishaq Dar: नवाज के खास को शहबाज सरकार ने उप-प्रधानमंत्री बनाकर वित्त मंत्रालय की भरपाई की
डार और नवाज शरीफ की राजनीतिक और पारिवारिक संबंध हैं। दरअसल, शरीफ डार का बड़ा बेटा है।
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ ने विदेश मंत्री इशाक डार को देश का उपप्रधानमंत्री बनाया है।

Ishaq Dar: नवाज के खास को शहबाज सरकार ने उप-प्रधानमंत्री बनाकर वित्त मंत्रालय की भरपाई

पार्टी सूत्रों ने बताया कि पहले से ही उनका पद उप प्रधानमंत्री का होगा। डार ने पिछली दो सरकारों में वित्त मंत्रालय संभाला था, लेकिन इस सरकार में उन्हें वित्त मंत्रालय नहीं दिया गया, इसलिए रविवार को उन्हें उप प्रधानमंत्री बनाया गया और उनकी साख को बरकरार रखा गया।

नवाज शरीफ के प्यारे डार को बता दें कि डार कश्मीर से हैं। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएल-एन) के वरिष्ठ नेता और चार्टर्ड अकाउंटेंट हैं। वह पार्टी अध्यक्ष और तीन बार प्रधानमंत्री रह चुके नवाज शरीफ का भी विश्वासपात्र है। पीएमएल-एन सुप्रीमो नवाज चाहते थे कि उनके विश्वासपात्र को सरकार में एक महत्वपूर्ण पद दे दिया जाए, ताकि वित्त विभाग में हुए नुकसान को भरपाया जा सके। डार और नवाज शरीफ की राजनीतिक और पारिवारिक संबंध हैं। दरअसल, शरीफ डार का बड़ा बेटा है। डार वर्तमान में सऊदी अरब में प्रधानमंत्री शहबाज के साथ विश्व आर्थिक मंच की एक विशेष बैठक में भाग ले रहे हैं।

गठबंधन सरकार की स्थापना के समय निर्धारित

पार्टी के अंदरूनी सूत्रों ने कहा कि डार को उप प्रधानमंत्री बनाने की घोषणा पहले से ही की गई थी। डार को गठबंधन सरकार की शुरुआत में उप प्रधानमंत्री पद पर नियुक्त किया गया था। पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी), जो सत्तारूढ़ गठबंधन का हिस्सा है, ने भी डार की नियुक्ति पर सवाल नहीं उठाया, जो दिलचस्प बात है। पीपीपी के सूचना सचिव फैसल करीम कुंडी ने कहा कि उनकी पार्टी को उप प्रधानमंत्री की नियुक्ति पर कोई आपत्ति नहीं है। प्रधानमंत्री डार को उपप्रधानमंत्री नियुक्त कर सकते हैं।

इमरान खान की पार्टी ने इस नियुक्ति को नकार दिया इस बीच, पूर्व प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी पीटीआई ने इस नियुक्ति को नकार दिया है। उनका दावा था कि शहबाज शरीफ के परिवार में ही महत्वपूर्ण राष्ट्रीय पदों का वितरण होता है। मुख्यमंत्री के सूचना मामलों के विशेष सहायक बैरिस्टर मुहम्मद अली सैफ ने कहा कि संविधान में डिप्टी प्रधानमंत्री का पद नहीं है। उनका कहना था कि सरकार लोगों की समस्याओं को हल करने के बजाय बड़े-बड़े पद देने में व्यस्त है।

मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, डार ने पहले दो सरकारों में वित्त मंत्री की भूमिका निभाई है। डार ने वित्त मंत्री के पद पर बहुत आलोचना झेली थी। पाकिस्तान में आर्थिक संकट ने उनका बहुत विरोध किया था। पाकिस्तान की वित्तीय स्थिति आईएमएफ की चिंताओं को नजरअंदाज करने से खराब हो गई है। शुरू में, उन्हें सीनेट (संसद के ऊपरी सदन) का अध्यक्ष बनाया जा सकता था, लेकिन पीपीपी के साथ गठबंधन के बाद ऐसा नहीं हुआ। पीपीपी ने गठबंधन के कारण सीनेट अध्यक्ष का पद हासिल किया। बाद में वे विदेश मंत्री बन गए।

यह भी पढ़े:-

Uttarakhand में वन विनाश: यह आग कब बुझ जाएगी? धधकते जंगलों में धुएं से सांस लेना मुश्किल, पर्यावरण को भारी नुकसान
कुमाऊं समेत पूरे राज्य में जंगलों की आग ने पूरे पर्यावरण को बहुत नुकसान पहुंचाया है। धुएं ने जंगली जानवरों और आम लोगों को सांस लेना मुश्किल कर दिया है। वनाग्नि के कारण वन्य जीव अपनी जान बचाने के लिए हर जगह भाग रहे हैं। जंगल की आग कई गांवों में लोगों तक पहुंच गई है। जंगलों में आग लगने की घटनाओं ने पिछले महीने तेजी से बढ़ी है।पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post