Search
Close this search box.

(ECI): चुनाव आयोग ने पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भाषणों पर नोटिस जारी किया {25-04-2024}

(ECI): चुनाव आयोग ने पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भाषणों पर नोटिस जारी किया
(ECI): चुनाव आयोग ने पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भाषणों पर नोटिस जारी किया, 29 अप्रैल तक मांगा जवाब आचार संहिता के उल्लंघन के आरोपों पर नोटिस जारी किया गया है। 29 अप्रैल सुबह 11 बजे दोनों पार्टियों से उत्तर मांगा गया है।

(ECI): चुनाव आयोग ने पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भाषणों पर नोटिस जारी किया

पीएम मोदी और कांग्रेस नेता राहुल गांधी के भाषणों पर आचार संहिता के उल्लंघन के आरोपों पर चुनाव आयोग ने स्वतः नोटिस जारी किया है। 29 अप्रैल सुबह 11 बजे तक चुनाव आयोग ने दोनों पार्टियों से उत्तर मांगा है। भाजपा और कांग्रेस ने एक दूसरे के नेताओं के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दर्ज की थी, साथ ही धर्म, जाति और संप्रदाय के मुद्दों पर भी शिकायत दर्ज की थी। भाजपा और कांग्रेस ने चुनाव आयोग में एक दूसरे के नेताओं पर आरोप लगाया था कि वे धर्म, जाति, संप्रदाय और भाषा के आधार पर नफरत फैलाने और अलगाववाद को बढ़ावा देते हैं।

भाजपा और कांग्रेस के अध्यक्षों को नोटिस चुनाव आयोग ने दोनों पार्टियों के अध्यक्षों को नोटिस भेजा है कि चुनाव आयोग ने जनप्रतिनिधि कानून की धारा 77 का इस्तेमाल करते हुए स्टार प्रचारकों के आचरण को जिम्मेदार ठहराया है। चुनाव आयोग ने नोटिस का उत्तर 29 अप्रैल को सुबह 11 बजे तक देने का आदेश दिया है। चुनाव आयोग ने कहा कि राजनीतिक पार्टियां अपने उम्मीदवारों और स्टार प्रचारकों के व्यवहार पर जवाब देनी चाहिए। चुनाव आयोग ने कहा कि राजनीतिक पार्टियां अपने उम्मीदवारों और स्टार प्रचारकों के व्यवहार पर उत्तरदायी होंगी। ऐसे भाषण, खासकर उच्च पदों पर बैठे लोगों द्वारा चुनाव प्रचार के दौरान, और भी महत्वपूर्ण हैं और गंभीर परिणामों को जन्म दे सकते हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने राजस्थान में एक रैली में कहा कि अगर कांग्रेस सत्ता में आई तो घुसपैठियों और अधिक बच्चों को संपत्ति देगी। प्रधानमंत्री ने इस दौरान पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के एक पुराने बयान का जिक्र किया, जिसमें उन्होंने कहा था कि अल्पसंख्यक समुदाय को देश के संसाधनों पर पहला हक है। कांग्रेस ने निर्वाचन आयोग से कहा कि प्रधानमंत्री मोदी का बयान विभाजनकारी और दुर्भावनापूर्ण था और यह आचार संहिता का स्पष्ट उल्लंघन था। चुनाव आयोग से प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ कांग्रेस ने 140 पेजों में 17 शिकायतें की।

भाजपा ने राहुल गांधी के दावे को गलत बताया

22 अप्रैल को भाजपा ने भी कांग्रेस नेता राहुल गांधी के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत दी थी। भाजपा ने अपनी शिकायत में कहा कि राहुल गांधी देश में गरीबी को बढ़ाने का झूठा वाद कर रहे हैं। भाजपा का कहना है कि राहुल गांधी ने भाषा और क्षेत्र के आधार पर देश को विभाजित करने की कोशिश की और चुनाव को बिगाड़ने की कोशिश की।

यह भी पढ़े:-

(IPL): धोनी के आदेश से सीएसके पर भारी पड़े स्टोइनिस?लखनऊ ने वीडियो शेयर किया, जानिए क्या सलाह दी गई
चेन्नई ने पहले बल्लेबाजी करते हुए चार विकेट पर 210 रन बनाए थे, टॉस हारकर। ऋतुराज गायकवाड़ ने सीएसके के लिए 108 रन की पारी खेली थी। लखनऊ ने जवाब में 19.3 ओवर में चार विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। लखनऊ में स्टोइनिस ने 124 रन की पारी खेली। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer