Search
Close this search box.

Kaithal समाचार: हैप्पी कार्ड योजना पर अभी भी मतभेद हैं {11-04-2024}

 

Kaithal समाचार: हैप्पी कार्ड योजना पर अभी भी मतभेद हैं
कैथल हरियाणा अंत्योदय परिवार परिवहन (हैप्पी) कार्ड योजना में उपलब्ध होने वाले कार्ड को लेकर अभी भी संदेह है। लाभार्थियों को मार्च में शुरू की गई योजना के एक महीने बाद भी कार्ड मिलना शुरू नहीं हुआ है। ऐसे में लाभार्थियों को अभी भी कार्ड मिलने का इंतजार करना होगा।

Kaithal समाचार: हैप्पी कार्ड योजना पर अभी भी मतभेद हैं

निदेशालय ने कुछ दिन पहले ही लाभार्थियों को कार्ड लेने और उनके मोबाइल नंबर पर संदेश भेजने की हिदायत दी थी। निदेशालय ने लाभार्थियों के मोबाइल नंबर पर अभी तक कोई सूचना नहीं भेजी है। निदेशालय से संदेश मिलने के बाद ही कार्ड बन सकेंगे। हालाँकि, रोडवेज ने इस योजना को लेकर नए बस स्टैंड पर सहायता केंद्र भी बनाया है। साथ ही अधिकारियों का मत है कि निदेशालय ही कार्ड वितरण का अंतिम निर्णय लेगा।

हैप्पी कार्ड योजना

एक लाख रुपये तक की आय वाले परिवारों को हरियाणा रोडवेज में फ्री यात्रा देने की योजना प्रदेश सरकार ने शुरू की है। इससे जिले के लगभग एक लाख परिवारों को फायदा होगा। इससे लाभार्थी परिवार हर साल एक हजार किलोमीटर निशुल्क चल सकेंगे। लाभार्थी परिवारों को स्मार्ट कार्ड बनाकर उपलब्ध कराया जाएगा। वे सिर्फ कार्ड से रोडवेज बसों में सफर कर पाएंगे। वे सिर्फ कार्ड से रोडवेज बसों में सफर कर पाएंगे। रोडवेज पर चालकों द्वारा प्रयोग की जाने वाली ई-टिकटिंग मशीनों से यह जुड़ा हुआ होगा। इस योजना का लाभ लेने के लिए अभी तक लगभग आठ हजार लोगों ने आवेदन किया है।

इस कार्यक्रम के लाभार्थियों को परिवार पहचान पत्र (PPF) के माध्यम से पहचाना जाएगा। लाभार्थी परिवार को हैप्पी योजना के तहत स्मार्ट कार्ड खरीदने के लिए 50 रुपये का एकमात्र भुगतान करना होगा। जबकि सरकार ही कार्ड के अन्य खर्चों को भुगतान करती है।

हरियाणा अंत्योदय परिवार परिवहन योजना, या हैप्पी, पिछले महीने प्रदेश सरकार ने शुरू की है। सरकार इस योजना के तहत अटल सेवा केंद्र के माध्यम से आवेदन कर रही है। लेकिन कार्ड निदेशालय इसे लाभार्थियों को देता है। निदेशालय को इसके लिए लाभार्थियों के मोबाइल पर संदेश भेजना होगा। नया बस स्टैंड पर ही कार्ड मिलेंगे जब यह संदेश आ जाएगा। – कमलजीत चहल, कैथल डिपो का महाप्रबंधक

यह भी पढ़े:-

Lok Sabha चुनाव: धन्यवाद।सब मूर्ख हैं, राजनीति में बेटियां अभी भी एक "पराया धन" हैं

Lok Sabha चुनाव: धन्यवाद।सब मूर्ख हैं, राजनीति में बेटियां अभी भी एक “पराया धन” हैं, उत्तराखंड में महिला अधिकार, सशक्तिकरण और योजनाओं पर चर्चा बहुत होती है, लेकिन राजनीतिक दलों की प्राथमिकता बदल जाती है जब चुनाव आते हैं। राज्य की चालिस लाख से अधिक महिला मतदाताओं को शायद कुछ समय और इंतजार करना होगा।पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post