Search
Close this search box.

मध्य प्रदेश में कांग्रेस से बाहर जाने वाले नेताओं की सूची: पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी से पूर्व विधायक संजय शुक्ला तक, जानें MP राजनीति{09-03-2024}

मध्य प्रदेश में कांग्रेस से बाहर जाने वाले नेताओं की सूची
मध्य प्रदेश में कांग्रेस से बाहर जाने वाले नेताओं की सूची

मध्य प्रदेश में कांग्रेस से बाहर जाने वाले नेताओं की सूची: पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी से पूर्व विधायक संजय शुक्ला तक, जानें MP राजनीति में कांग्रेस छोड़ने वालों की सूची: भाजपा ने लोकसभा चुनाव से पहले और राहुल गांधी की भारत जोड़ो न्याय यात्रा की मप्र से विदाई के बाद कांगेस को घेर लिया है। प्रदेश में 13 से अधिक कांग्रेस नेता, जिनमें पूर्व सांसद और विधायक भी शामिल हैं, भाजपा में शामिल हो गए। इनमें बहुत से बड़े नाम शामिल हैं।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस से बाहर जाने वाले नेताओं की सूची: भाजपा में शामिल होने का महत्व

भाजपा में शामिल होने वाले 13 से अधिक पूर्व कांग्रेस नेता, जिनमें मध्यप्रदेश के पूर्व सांसद, पूर्व केंद्रीय मंत्री और पूर्व विधायक शामिल हैं, शनिवार को भोपाल के पूर्व सांसद सुरेश पचौरी के अलावा इंदौर के संजय शुक्ला और विशाल पटेल भी भाजपा में शामिल हो गए। भोपाल में प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और मंत्री कैलाश विजयवर्गीय की उपस्थिति में एक बैठक में सभी कांग्रेस नेताओं ने पार्टी की सदस्यता स्वीकार की।

कांग्रेस से बाहर जाने वाले नेताओं की सूची

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का निधन होगा। शनिवार सुबह बीजेपी प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा, वरिष्ठ कांग्रेस नेता सुरेश पचौरी और राजूखेड़ी, कांग्रेस नेता संजय शुक्ला, विशाल पटेल, अर्जुन पलिया और भोपाल कांग्रेस के पूर्व जिला अध्यक्ष कैलाश मिश्रा प्रदेश भाजपा कार्यालय पहुंचे।

संजय शुक्ला और विशाल पटेल धनवान कांग्रेसी नेताओं में शामिल हैं। दोनों नेताओं ने पिछले विधानसभा चुनाव में भाजपा नेताओं को हराया था। दोनों नेता कमलनाथ सरकार में बहुत लोकप्रिय थे। कांग्रेस विधायक रहे संजय शुक्ला ने इंदौर विधानसभा में कई महत्वपूर्ण काम किए। देपालपुर पर भी विशाल पटेल का खास प्रभाव था। धनवान नेताओं में संजय शुक्ला और विशाल पटेल भी शामिल हैं। दोनों व्यापार और जमीन के मालिक हैं। भाजपा के वरिष्ठ नेता विष्णु प्रसाद शुक्ला के बेटे संजय शुक्ला का मुख्य कारोबार ट्रैवल्स है। विशाल खेती करता है और जमीन खरीदता है।

मैं अपने परिवार में वापस लौटा, संजय शुक्ला ने कहा कि भाजपा मेरा परिवार था और मैं अपने परिवार में वापस आ गया हूँ। कांग्रेस ने राम मंदिर का आमंत्रण ठुकरा दिया तो मुझे बहुत बुरा लगा। मैं अब बीजेपी में रहकर देश की सेवा करूँगा।

भाजपा के इस नेता ने पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचौरी, धार से पूर्व सांसद गजेंद्र सिंह कालूखेड़ी, पूर्व विधायक संजय शुक्ला, पूर्व विधायक विशाल पटेल, पिपरिया से पूर्व विधायक अर्जुन पलिया, एनएसयूआई के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अतुल शर्मा, भोपाल शहर कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष कैलाश मिश्रा, डॉ आलोक चंसोरिया, योगेश शर्मा, अतुल शर्मा, सुभाष यादव, दिनेश ढिमोले वीडी शर्मा ने कहा कि प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और सुरेश पचौरी जैसे संतों को कांग्रेस में स्थान नहीं है।

वीडी शर्मा ने कहा कि सुरेश पचौरी जैसे संतों को कांग्रेस में स्थान नहीं है. प्रदेश अध्यक्ष बीडी शर्मा, मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और कैलाश वियजवर्गीय ने सभी कांग्रेस नेताओं को अंगवस्त्र पहनाकर सुरेश पचौरी, संजय शुक्ला और अर्जुन पलिया को भाजपा में शामिल किया। इस दौरान वीडी शर्मा ने कहा कि संतों की तरह सुरेश पचौरी को कांग्रेस में स्थान नहीं है। उनका कहना था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश में सुधार हुआ है। भाजपा पर लोगों का लगातार भरोसा है। मध्य प्रदेश में सुरेश पचौरी कांग्रेस का राजनीतिक संत है।

CM Yadav ने कहा कि नेताओं को कांग्रेस का नेतृत्व निराश करता है

मुख्यमंत्री मोहन यादव ने कहा कि आज का दिन एक नया इतिहास बनने वाला है। वास्तव में, हर जगह राहुल गांधी जाते हैं, इससे कांग्रेस की कार्यशैली प्रभावित होती है। हर दल में अच्छी तरह से स्थापित स्वच्छता के साथ राजनीति करने वाले नेता होते हैं। लेकिन नेतृत्व साफ राजनीतिज्ञों को मौका और अनुकूलता देता है। यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि कांग्रेस का नेतृत्व देश के विकास के लिए राजनीति करने वाले स्वच्छ और साफ सोच वाले नेताओं को निराश करता है।

ऐसे में स्वाभिमानी आदमी कांग्रेस में काम करना नहीं चाहेगा। सीएम ने कहा कि मैं सिर्फ राहुल गांधी को दो या तीन यात्राएं करने को कहूंगा। अहिले राहुल गांधी हर जगह जाते हैं। वहाँ कांग्रेस स्पष्ट है। राहुल गांधी ने महात्मा गांधी की भावना को साबित किया है। गांधीजी ने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस को भंग करना चाहिए था।

यह भी पढ़े:-

सरकार द्वारा दो तोहफे :डीए और गैस सिलेंडर पर बड़ी छूट

सरकार द्वारा दो तोहफे:डीए और गैस सिलेंडर पर बड़ी छूट केंद्रीय कर्मचारियों के डियरनेस एलोवेंस (DA) और पेंशनधारकों के डियरनेस रिलीफ (DR) में 1 जनवरी 2024 से चार फीसदी की बढ़ोतरी करने के बारे में जानिए। वहीं घरेलू गैस सिलेंडर पर 100 रुपये की छूट दी जाएगी। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post