Search
Close this search box.

तमिलनाडु में प्रधानमंत्री मोदी द्वारा 17,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं का शुभारंभ {ew

Tamil Nadu: प्रधानमंत्री मोदी ने 17,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं की घोषणा की, पहले स्वदेशी हरित हाइड्रोजन ईंधन सेल अंतर्देशीय जलमार्ग जहाज को थूथुकुडी में हरी झंडी दी।

प्रधानमंत्री मोदी ने 17,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं

17,300 करोड़ रुपये की परियोजनाओं

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तमिलनाडु में हैं। इस दौरान, उन्होंने थूथुकुडी में लगभग 17,300 करोड़ रुपये की कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। इन परियोजनाओं में देश का पहला हाइड्रोजन हब पोर्ट और इनलैंड वाटर वे वेसल शामिल हैं। Environmental Nautical Institute ने वेसल बनाया है। साथ ही, PM ने वीओ चिदंबरनार बंदरगाह पर आउटर हार्बर कंटेनर टर्मिनल का उद्घाटन किया।

थूथुकुडी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत के पहले स्वदेशी हरित हाइड्रोजन ईंधन सेल अंतर्देशीय जलमार्ग जहाज को हरी झंडी दिखाई. यह एक हरित नौका पहल था। बाद में, लगभग 986 करोड़ रुपये की लागत वाले भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के नए प्रक्षेपण परिसर का शिलान्यास थूथुकुडी के निकट कुलसेकरापट्टिनम में किया गया। बताया जा रहा है कि निर्माण और तैयार होने पर यहां से हर वर्ष 24 प्रक्षेपण किए जा सकेंगे। इसरो के इस नए क्षेत्र में 35 केंद्र और “मोबाइल लॉन्च स्ट्रक्चर” (एमएलएस) हैं। इससे अंतरिक्ष अन्वेषण की क्षमता बढ़ेगी।

‘आज तमिलनाडु थूथुकुडी में प्रगति का नया अध्याय लिख रहा है,’ प्रधानमंत्री मोदी ने इस मौके पर ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की भावना का पालन किया। बहुत सी परियोजनाओं का उद्घाटन या शिलान्यास हो रहा है। विकासशील भारत के मार्गदर्शन में ये परियोजनाएं महत्वपूर्ण हैं। साथ ही इन परियोजनाओं में ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की भावना दिखाई देगी।’

सत्य कड़वा है

उनका कहना था, “सत्य कड़वा होता है, लेकिन जरूरी भी होता है।” मैं सीधे-सीधा यूपीए सरकार पर आरोप लगा रहा हूँ। यहां के लोगों ने दशकों से ये काम चाहते थे, जो काम मैं आज लाया हूँ। आज यहां सत्ता में बैठे लोग दिल्ली में सरकार चलाते थे, लेकिन आपके विकास की परवाह नहीं करते थे। बातें तमिलनाडु की हैं, लेकिन तमिलनाडु के हित में कुछ करने का साहस नहीं था। आज मैं तमिलनाडु की धरती पर इस राज्य का भाग्य लिखने आया हूँ।’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘आज भारत की पहली हाइड्रोजन ईंधन फेरी का उद्घाटन हुआ। यह फेरी जल्द ही काशी में गंगा में चलेगी, जो तमिलनाडुवासियों को काशीवासियों को एक बड़ा उपहार है।’

यह भारत की नवीनता है

प्रधानमंत्री ने कहा, “मैंने एक बार मन की बात कार्यक्रम में कहा था कि देश के प्रमुख लाइटहाउस को पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित किया जा सकता है।” आज मैं देश के विभिन्न राज्यों में स्थित 75 लाइटहाउस में निर्मित पर्यटन सुविधाओं को देश को समर्पित करने का सौभाग्य प्राप्त कर रहा हूँ…।यह भारत की नवीनता है।’

उनका कहना था कि, “जलमार्ग और समुद्री क्षेत्र को दशकों तक हमारे देश में उपेक्षा के साथ देखा गया, लेकिन आज विकसित भारत की बुनियाद बन रहे हैं।” इससे तमिलनाडु और दक्षिण भारत सबसे अधिक लाभ उठाते हैं।’

यह भी पढ़े:-

गगनयान मिशन का उद्देश्य क्या है?

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने चार भारतीयों को अंतरिक्ष में जाने का सम्मान दिया। अंतरिक्ष यात्रियों में विंग कमांडर शुभांशु शुक्ला, ग्रुप कैप्टन प्रशांत नायर, ग्रुप कैप्टन अजीत कृष्णन और ग्रुप कैप्टन अंगद प्रताप शामिल हैं। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer