Search
Close this search box.

अमित शाह: शाह ने अधिवेशन में कहा, “भाजपा में बूथ कार्यकर्ता भी पीएम बन सकते हैं” {18-02-2024}

अमित शाह: शाह ने अधिवेशन में कहा, “भाजपा में बूथ कार्यकर्ता भी पीएम बन सकते हैं”, जबकि हम खुद हिंसा के शिकार थे.

अमित शाह
अमित शाह

उन्होंने कहा, “मैं कांग्रेस को चेतावनी देता हूं कि आप रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के निमंत्रण को ठुकराकर केवल इस ऐतिहासिक क्षण का हिस्सा बनने से नहीं कतरेंगे, बल्कि अपने देश को महान बनाने की प्रक्रिया से खुद को दूरगृह मंत्री अमित शाह ने भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में अपने संबोधन में विपक्ष पर जमकर निशाना साधा और कहा कि भाजपा में एक बूथ कार्यकर्ता भी प्रधानमंत्री बन सकता है।

भाजपा राष्ट्रीय अधिवेशन में अमित शाह ने कहा, “भाजपा में बूथ कार्यकर्ता भी पीएम बन सकते हैं”

शाह ने कहा, “भाजपा में बूथ का काम करने वाला एक व्यक्ति देश का राष्ट्रपति भी बन सकता है और प्रधानमंत्री भी बन सकता है।भाजपा को लोकतांत्रिक बनाने के कारण यह सुविधा केवल उसे ही मिलती है।’

कांग्रेस को चेतावनी देते हुए शाह ने कहा, ‘मैं कांग्रेस को चेतावनी देता हूं कि आप रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के निमंत्रण को ठुकराकर केवल इस ऐतिहासिक क्षण का हिस्सा बनने से नहीं कतराएं बल्कि अपने देश को महान बनाने की प्रक्रिया से खुद को दूर कर लिया है। देश की जनता इसे देख रही है और याद रखेगी।उन्होंने कहा कि इस देश ने 75 वर्ष में 17 लोकसभा चुनाव, 22 सरकारें और 15 प्रधानमंत्री देखे हैं। हमारे देश में हर सरकार ने अपने समय का अनुकूल विकास करने की कोशिश की है। लेकिन आज मैं बिना शक के कह सकता हूँ कि नरेन्द्र मोदी जी के दस वर्षों में हर व्यक्ति और हर क्षेत्र का विकास हुआ है।’

अमित शाह ने कहा कि देश ने पीएम मोदी को फिर से प्रधानमंत्री बनाने में कोई संदेह नहीं है। PM मोदी ने देश को तुष्टिकरण, जातिवाद, भ्रष्टाचार और वंशवाद से मुक्त किया है। विकास की नीति बनाई गई है। कांग्रेस ने कभी इसकी चिंता नहीं की, लेकिन प्रधानमंत्री हमें औपनिवेशिक मानसिकता से दूर कर रहे हैं, जो आजादी के तुरंत बाद होना चाहिए था।

शाह ने कहा, ‘हम खुद हिंसा के भुक्तभोगी हैं, केरल में हमारे 100 से ज्यादा कार्यकर्ता शहीद हो गए, 300 से ज्यादा अपाहिज हो गए। वहां इंडी अलायंस है। बंगाल में चुनाव में निरंतर हिंसा, धांधली और घपलेबाजी हुई, वहां हमारे सैंकड़ों कार्यकर्ता मारे गए। इंडी अलायंस और ममता बनर्जी वहाँ हैं। हिंसा ने हमें मार डाला है। घमंडी संगठन हिंसा फैलाता है। घमंडी गठबंधन को सत्ता हासिल करने की कोई संभावना नहीं दिखती। इसलिए आज वे हर चीज का विरोध करने लगे हैं।’

यह भी पढ़े :-

मुरैना में गैंगरेप के आरोपी की पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म

MP समाचार: मुरैना में गैंगरेप के आरोपी की पत्नी से सामूहिक दुष्कर्म, फिर पेट्रोल डालकर जलाया, हालत गंभीर फिर उस पर पेट्रोल डालकर उसे जिंदा जलाने का प्रयास किया। महिला को 80% झुलसी हालत में अस्पताल भेजा गया है।पुरा पढ़े

 

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post