Search
Close this search box.

UP न्यूज़:लखीमपुर खीरी में पुलिस ने अष्टधातु की मूर्ति चोरों को गिरफ्तार किया {10-01-2024}

लखीमपुर खीरी में पुलिस ने अष्टधातु की मूर्ति चोरों को गिरफ्तार किया
लखीमपुर खीरी में पुलिस ने अष्टधातु की मूर्ति चोरों को गिरफ्तार किया

लखीमपुर खीरी में पुलिस ने दो चोरों को गिरफ्तार किया है, जो राजस्थान से भगवान विष्णु की अष्टधातु की मूर्ति चोरी करते थे, जिसका मूल्य पांच करोड़ रुपये था। आरोपियों ने भगवान शिव की बहुमूल्य मूर्ति बरामद की है। राजस्थान से अष्टधातु की मूर्ति चोरी की गई थी। चोर इसे नेपाल ले जा रहे थे। बताया गया है कि इसकी कीमत लगभग पांच करोड़ रुपये है।

लखीमपुर खीरी में पुलिस ने अष्टधातु की मूर्ति चोरों को गिरफ्तार किया

लखीमपुर खीरी में एक दिन पहले नीमगांव के मूड़ा पासी गांव से गिरफ्तार किए गए लोगों से धौरहरा पुलिस ने भगवान विष्णु की अष्टधातु की मूर्ति बरामद की है। सवा तीन किलो वजन वाली मूर्ति की मूल्य लगभग पांच करोड़ रुपये बताया जाता है। धौरहरा के सिसैया बस स्टैंड पर पुलिस ने दोषियों को गिरफ्तार किया धौरहरा के सिसैया बस स्टैंड से पुलिस ने दोषियों को गिरफ्तार किया है।

धौरहरा पुलिस ने बताया कि मंगलवार को गांव मूड़ा पासी थाना नीमगांव के दयाराम और पंकज को लखीमपुर-बहराइच रोड पर सिसैया बस स्टैंड पर चेकिंग के दौरान गिरफ्तार किया गया। उन्होंने भगवान विष्णु की विशाल अष्टधातु की मूर्ति बरामद की है। मूर्ति का वजन 3 kg 250 g है। इसकी अनुमानित कीमत लगभग पांच करोड़ रुपये है। साथ ही, अभियुक्त पंकज से अवैध तमंचा और कारतूस बरामद हुए हैं। मुकदमा दर्ज किया गया और आरोपियों को न्यायालय भेजा गया।

सोमवार की दोपहर करीब 12 बजे गांव मूड़ा पासी निवासी दयाराम और पंकज को कार सवार चार लोगों ने मार डाला, जब पुलिस सुबह से शाम तक टालमटोल करती रही। सोमवार की दोपहर करीब 12 बजे गांव मूड़ा पासी के दयाराम और पंकज को कार सवार चार लोगों ने घर से उठाया, जो सुबह से शाम तक टालमटोल करते रहे।

बताया जाता है कि एसपी भी रात में गांव पहुंचे थे। मामले में मूड़ा पासी निवासी शीला देवी ने भी थाना पुलिस को पति दयाराम और चचेरे भाई पंकज को उठाने की शिकायत की थी। पूरे दिन चौकी और थाना पुलिस दो ग्रामीणों को घर से निकालने के बारे में टालमटोल करती रही।

दयाराम और पंकज के बारे में पुलिस ने पहले कुछ नहीं कहा। शाम को धौरहरा पुलिस ने मूर्ति बरामद होने की खबर दी। और पंकज और दयाराम को सिसैया बस स्टैंड से और पंकज और दयाराम को सिसैया बस स्टैंड से पकड़ने की बात कही।

तीन महीने पहले राजस्थान से चोरी हुई मूर्ति थाना धौरहरा पुलिस ने पांच करोड़ रुपये की अष्टधातु की मूर्ति को पकड़ा था। पुलिस ने कहा कि दोनों आरोपी नेपाल में मूर्ति बेचने की योजना बना रहे थे। नेपाल के एक व्यापारी से भी तीन करोड़ रुपये का सौदा हुआ था।

थाना प्रभारी दिनेश सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि राजस्थान से एक मूर्ति चुराकर नेपाल के एक व्यापारी को बेचने की कोशिश कर रहे हैं। दोनों अभियुक्तों को गिरफ्तार कर मूर्ति बरामद की गई। पूछताछ में दोनों बदमाशों ने बताया कि तीन महीने पहले राजस्थान से मूर्ति चोरी की थी पूछताछ में दोनों बदमाशों ने बताया कि वे तीन महीने पहले राजस्थान से मूर्ति चोरी कर चुके थे। वे नेपाल में इसे बेचने की सोच में थे।

जयपुर के एक व्यापारी से भी दो महीने पहले मूर्ति का सौदा हुआ था, लेकिन व्यापारी ढाई करोड़ रुपये दे रहा था, जबकि आरोपी तीन करोड़ रुपये मांग रहे थे। इस पर कोई सौदा नहीं हुआ। इसके बाद नेपाल के एक व्यापारी से सौदा हुआ, जो तीन करोड़ रुपये था। दोनों आरोपी उसे मूर्ति बेचने के लिए नेपाल जा रहे थे, लेकिन मुखबिर की सूचना पर सिसैया चौराहे पर गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़े:-

महेंद्र सिंह धोनी
महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी  का मामला: धोनी ने दोस्त के खिलाफ शिकायत क्यों की, खाते से पैसे नहीं गए और फिर 16 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी धोनी ने अपने पूर्ववर्ती बिजनेस पार्टनर के खिलाफ शिकायत की है। 16 करोड़ रुपये धोनी से नहीं लिए गए हैं। पुरा पढ़े

 

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post