Search
Close this search box.

दिल्ली शराब मामला: भाजपा नेता गौरव भाटिया के बयान पर बवाल, ED के सामने नहीं आए केजरीवाल {03-01-2024}

भाजपा नेता ने कहा, ‘अरविंद केजरीवाल ED सामने क्यों नहीं आए? दूध का दूध और शराब का शराब होगा

दूध का दूध और शराब का शराब होगा
अरविंद केजरीवाल photo :rashtriyabharatmanisamachar

भाजपा नेता गौरव भाटिया ने आज कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से आज उम्मीद की जा रही थी कि वे जाएंगे और सवालों के जवाब देंगे, अगर उनकी मर्यादा शेष है। दूध का दूध और शराब का शराब हो जाएगा।
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज फिर से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) से पूछताछ के लिए बुलाया गया था शराब नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में। लेकिन इस बार भी अरविंद केजरीवाल ईडी के सामने नहीं आए। भाजपा ने इसके बाद एक बार फिर उन पर हमला बोला है।

भाजपा का हमला और आरोप

भाजपा नेता गौरव भाटिया ने कहा, “पहली बार जब अरविंद केजरीवाल घबराए तो उन्होंने चुनाव का बहाना दिया। अरविंद केजरीवाल ने दूसरी बार कहा कि वे विपासना योग में जा रहे हैं। आज अरविंद केजरीवाल से उम्मीद की जा रही थी कि वे जाएंगे और सवालों के जवाब देंगे, अगर उनकी मर्यादा शेष है। दूध का दूध और शराब का शराब हो जाएगा।

“अरविंद केजरीवाल भारत की राजनीति में ये कहकर आए थे कि किसी पर आरोप लगे तो इस्तीफा दे दो,” गौरव भाटिया ने कहा।आपको खुद ED में जाकर खाता-बही दिखाकर साबित करना चाहिए कि आपने कोई गलत काम नहीं किया है। अरविंद केजरीवाल का मानना है कि खाता न बही; उनका कहना है कि वह सही है। वे ईडी को पत्र लिखकर अपना समन वापस लेने को कहते हैं। भ्रष्टाचारी और पापी अरविंद केजरीवाल ईडी से अपना समन वापस लेने की मांग करते हैं।

राजनीतिक तकरार

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीरेंद्र सचदेवा ने कहा कि अरविंद केजरीवाल ईडी समन से बच रहे हैं, जो साफ दर्शाता है कि उन्हें देश की प्रशासनिक और न्यायिक व्यवस्था पर विश्वास नहीं है. इससे प्रश्न उठता है कि क्या उन्हें अब मुख्यमंत्री बने रहने का नैतिक अधिकार है? केजरीवाल की तरह, मनीष सिसोदिया, संजय सिंह और नायर ने भी ईडी नोटिस को गलत बताया था, फिर पेश हुए और आज बहुत प्रयासों के बाद भी जमानत नहीं मिली, बल्कि हर न्यायालय से फटकार मिली है।

केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा, “जो लोग राजनीति में आने से पहले ईमानदारी की दुहाई देते थे, आज सबसे बड़ी बेईमान पार्टी आप बनी है।” जिनके कई मंत्री जेल में हैं और अब मुख्यमंत्री (अरविंद केजरीवाल) भ्रष्टाचार के मामले में ईडी के समन को बार-बार ठुकरा रहे हैं, दाल में स्पष्ट रूप से कुछ काला है या पूरी दाल काली दिखती है।「

भाजपा नेता शहजाद पूनावाला ने कहा, “अरविंद केजरीवाल पेश होने से कतरा रहे हैं।” चोर की मूंछ में तिनका होना अनिवार्य है। विक्टिम कार्ड खेलना अब काम नहीं करेगा। आपकी चहीती कांग्रेस ने खुद कहा है कि शराब घोटाला हुआ है और हमने शिकायत की है। अरविंद केजरीवाल ने अन्ना हजारे को घेरकर कहा था कि पहले इस्तीफा दें, फिर जांच करें।「

“आप” ने ED को नोटिस भेजा, जिसका अवैध सीएम ने पत्र लिखकर जवाब दिया है। AAP ने कहा कि दिल्ली सीएम ED की जांच में सहयोग करने को तैयार हैं, लेकिन संस्था का नोटिस गैरकानूनी है। अरविंद केजरीवाल को गिरफ्तार करना उनका लक्ष्य है। वे चाहते हैं कि वे चुनाव प्रचार में शामिल न हों।

दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा, “जब दो बार समन आया तो अरविंद केजरीवाल ने स्पष्ट तौर पर कई सवाल पूछते हुए ED को चिट्ठी लिखी।ईडी ने अरविंद केजरीवाल को तीन बार पत्राचार किया, लेकिन आज तक उनके प्रश्नों का जवाब नहीं दिया। ईडी ने समन में स्पष्ट तौर पर बुलाने का कारण क्यों नहीं बताया? अगर वे सच्चे उत्तर देंगे, तो हमें बताना होगा कि भाजपा कार्यालय से आदेश मिलने के कारण इस समन को भेजा गया है।“

मुख्यमंत्री की अनदेखी जवाबी

कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ईडी के सामने नहीं आने पर ईडी अदालत से वारंट जारी कर सकती है, जो उन्हें गिरफ्तार कर सकता है।दिल्ली सरकार में मंत्री आतिशी ने कहा, “जब दो बार समन आया तो अरविंद केजरीवाल ने स्पष्ट तौर पर कई सवाल पूछते हुए ईडी को चिट्ठी लिखी। ईडी ने आज तक अरविंद केजरीवाल के सवालों का जवाब नहीं दिया, तीन बार पत्राचार करने के बावजूद। ईडी ने समन में स्पष्ट तौर पर बताया क्यों नहीं कि वह क्यों बुलाया जा रहा है? अगर वे सच्चे उत्तर देंगे, तो हमें बताना होगा कि समन भाजपा कार्यालय से आया था।

ED अदालत से वारंट जारी कर सकता है, जिससे उन्हें गिरफ्तार किया जा सकता है: कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने कहा, “ईडी पर भरोसा नहीं किया जा सकता लेकिन ज्यादा बेहतर होता कि अरविंद केजरीवाल ईडी के सामने जाते।” देश इंतजार कर रहा है कि ED उनके साथ क्या करता है। ईडी उन्हें गिरफ्तार करने का वारंट जारी कर सकती है अगर वे (अरविंद केजरीवाल) ED के सामने नहीं जाते हैं।

यह भी पढ़े:-

विदेश मंत्री का तंज: नेहरू की चीन नीति पर आलोचना

जयशंकर
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता जयराम रमेश

कांग्रेस भड़क गई जब जयशंकर ने नेहरू की चीन नीति को कोसा, कहा कि मौजूदा प्रधानमंत्री से लाभ लेने के लिए..। पुरा पढ़े

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer