Search
Close this search box.

गोवर्धन पूजा, 2023: आनंद और भक्ति का त्योहार

govardhan puja, 2023: कल गोवर्धन पूजा होगी: जानें पूजन की प्रक्रिया, शुभ मुहूर्त और इसके महत्व को:-

govardhan puja, 2023: कल गोवर्धन पूजा होगी: जानें पूजन की प्रक्रिया, शुभ मुहूर्त और इसके महत्व को

govardhan puja, 2023: गोवर्धन पूजा के दिन लोग गोवर्धन पर्वत की तस्वीर गाय के गोबर से बनाते हैं। इस दिन भी भगवान श्रीकृष्ण को कुछ खाया जाता है।

govardhan puja, 2023: कार्तिक महीने की शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि गोवर्धन पूजा है। यह दिवाली के अगले दिन मनाया जाता है। गोवर्धन पूजा का नाम भी अन्नकूट है। इस दिन गौ माता, गोवर्धन पर्वत और श्री कृष्ण की पूजा की जाती है। आजकल लोग आंगन या बाहर गाय चराते हैं।

गाय के गोबर से गोवर्धन पर्वत को घर के बाहर या आंगन में बनाकर पूजा करते हैं।। भगवान श्रीकृष्ण को आज भी बहुत कुछ खाया जाता है। हम गोवर्धन पूजा की तिथि, शुभ मुहूर्त और महत्व को जानते हैं। 2023 में गोवर्धन पूजा होगी क्या? 13 नवंबर, सोमवार को दोपहर दो बजे 56 मिनट से कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की प्रतिपदा तिथि शुरू होगी। 14 नवंबर को दोपहर दो बजे 36 मिनट पर यह तिथि समाप्त होगी। 14 नवंबर को गोवर्धन की उदया तिथि है, इसलिए मंगलवार को इसकी पूजा मनाई जाएगी।

govardhan puja 2023 का समय:-

मंगलवार, 14 नवंबर 2023, सुबह छह बजकर 43 मिनट से आठ बजकर 42 मिनट तक है।

गोवर्धन पूजा के दिन ये योग शुभ हैं। गोवर्धन पूजा के दिन सुबह से शोभन योगप्रातःकाल से दोपहर १ बजकर ४७ मिनट तक चलता है इसके बाद अतिगंड योग शुरू होगा। अतिगंड योग खराब है। लेकिन शोभन योग हितकारी है। गोवर्धन पूजा के दिन सुबह से ही अनुराधा नक्षत्र रहेगा।

गोवर्धन पूजा के तरीके: सुबह जल्दी उठकर स्नान करें।

• फिर शुभ मुहूर्त में गाय के गोबर से गिरिराज गोवर्धन पर्वत बनाएं, साथ ही पशुओं (बछड़े, गाय, आदि) की आकृतियों इसे भी बनाएँ।

• फिर धूप-दीप सहित अन्य साधनों से पूजा करें।

• दुग्ध से भगवान कृष्ण को स्नान करने के बाद उनका पूजन करें।

फिर भोजन खाओ। गोवर्धन पूजा: पौराणिक कहानियों के अनुसार, गोवर्धन पूजा भगवान कृष्ण ने शुरू की थी। श्रीकृष्ण ने इंद्रदेव के क्रोध से ब्रजवासियों और पशु-पक्षियों को बचायाके लिए श्रीकृष्ण ने गोवर्धन को अपनी उंगली पर उठाया था। इसलिए गिरिराज भी गोवर्धन पूजा में पूजा जाता है। अन्नकूट आज बहुत महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़े:-

दीपावली 2023: आध्यात्मिक महत्व के साथ, जानें इस अद्वितीय शुभ मुहूर्त में लक्ष्मी पूजा का माहत्व

विशेष रूप से तैयार हो जाएं, क्योंकि दीपावली 2023 में बना है अद्वितीय राजयोग और शुभ योग का महत्वपूर्ण संयोग:-

क्योंकि दीपावली 2023 में बना है

Diwali 2023: पांच राजयोग के साथ इस शुभ मुहूर्त में होगी दिवाली पर लक्ष्मी पूजा, वर्षों बाद बना ऐसा संयोग
वैदिक ज्योतिष शास्त्र की गणना के मुताबिक इस साल दीपावली बहुत ही खास रहेगी, क्योंकि कई दशकों के बाद दिवाली पर एक साथ कई शुभ योग और राजयोग का निर्माण हुआ है।

 

खबर को पुरा पढ़ने के लिए click करे:-rashtriyabharatmanisamachar

यह भी पढ़े:-

राजस्थान चुनाव 2023: दीपावली से लेकर उम्मीदवारों का महका मैदान

चुनावी पर्व की शुरुआत: राजस्थान में 2023 के चुनावों का माहौल:-

चुनावी पर्व की शुरुआत: राजस्थान में 2023 के चुनावों का माहौल

राजस्थान चुनाव 2023: राजस्थान में दीपावली की तैयारियों के साथ चुनावी पर्व की शेार भी खूब हो रहा है। छोटे-बड़े नौ दलों और निर्दलीय उम्मीदवारों समेत 1875 प्रत्याशी चुनाव में अपना भाग्य आजमा रहे हैं। जानिए किस पार्टी के कितने प्रत्याशी मैदान में हैं।

राजस्थान चुनाव 2023:नामांकन का दंगल:-

राजस्थान के सत्ता संग्राम में 200 विधानसभा सीटों पर 1875 उम्मीदवार अपनी किस्मत अजाम रहे हैं। चुनाव लड़ने के लिए 3432 नामांकन भरे गए थे। कुछ प्रत्याशियों ने एक से ज्यादा नामांकन भी भरे थे। चुनाव आयोग ने जांच के बाद 396 नामांकन रद्द कर दिए, जबकि 490 प्रत्याशियों ने नामांकन वापस ले लिए। अब 25 नवंबर को मतदान के बाद 1875 उम्मीदवारों की किस्मत ईवीएम मशीन में कैद हो जाएगा।

 

खबर को पुरा पढ़ने के लिए click करे:-rashtriyabharatmanisamachar

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post