Search
Close this search box.

सरगुजा में 15 ग्रामीण पैड बैंक स्थापित

अंबिकापुर। अदाणी फाउंडेशन द्वारा ग्रामीण महिलाओं को पर्सनल हाइजीन के लिए जागरूक करने की पहल एक नए एवं बेहतरीन मुकाम पर पहुँच चुकी है। 2 अक्टूबर 2019 को सरगुजा जिले के साल्ही गाँव में इस परियोजना का शुभारंभ किया गया था जिसके तहत 2 अक्टूबर 2020 तक सरगुजा जिले के गाँवों में 50 पैड बैंक स्थापित करने की योजना है। मब्स समिति की प्रतिबद्धता एवं मेहनत के फलस्वरूप वर्तमान में कुल 15 ग्रामीण पैड बैंकों की सफल स्थापना हो चुकी है। इस परियोजना के माध्यम से अदाणी फाउंडेशन ग्रामीण महिलाओं को व्यग्तिगत स्तर पर स्वच्छता के बारे में अवगत करा रहा है।
इस परियोजना के संदर्भ में उदयपुर से श्रीमती वंदना कच्छप, बीपीएम-एनआरएलएम एवं एनआरएलएम की सेक्टर इंचार्ज श्रीमती फुलमनिया ने पारसा स्थित उद्यमी रिसोर्स सेंटर का दौरा किया जहाँ उन्होंने इस परियोजना की लाभार्थी महिलाओं से मुलाकात की। इस मीटिंग के दौरान उन्होंने ग्रामीण महिलाओं को नई पहचान दिलाने के लिए अदाणी फाउंडेशन के प्रति आभार व्यक्त किया तथा मब्स की महिलाओं को उज्ज्वल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दीं।
सरगुजा जिले में स्थित मब्स समिति की विभिन्न परियोजनाओं में से सैनिटरी पैड मे किंग यूनिट भी है जहाँ समिति की महिलाएँ सर्वश्रेष्ठ तकनीक एवं कौशल के माध्यम से सैनिटरी पैड बनाती हैं। अदाणी फाउंडेशन द्वारा समर्थन प्राप्त समिति, मब्स ने ग्रामीण महिलाओं को रोजगार का बेहतरीन अवसर प्रदान किया है तथा वर्तमान में सरगुजा जिले की महिलाएँ आर्थिक रूप से स्वतंत्र एवं सशक्त हैं।

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer

Recent Post