Search
Close this search box.

‘डंकी’ Film Review: तिकड़ी बनते ही अभिजात और राजू की जोड़ी बिखरी, एक्शन सत्यानाश फिल्म की समीक्षा डंकी{22-12-2023}

‘डंकी’ Film Review: शाह रुख खान, तापसी पन्नू, विक्की कौशल, बमन ईरानी, विक्रम कोछड़ और अनिल ग्रोवर

'डंकी' Film Review

रिलीज: कलाकार: शाह रुख खान, तापसी पन्नू, विक्की कौशल, बमन ईरानी, विक्रम कोछड़ और अनिल ग्रोवर, लेखक: राज कुमार हिरानी, अभिजात जोशी, कनिका ढिल्लों, निर्माता: राज कुमार हिरानी, गौरी खान

कहानी का अंत शुरू होते ही, फिल्म का मूल्यांकन और 2/5 रेटिंग

2/5: राज कुमार हिरानी ने अनुभव सिन्हा, राहुल ढोलकिया, इम्तियाज अली और आनंद एल राय की लिस्ट में अपना नया नाम जोड़ा है। ये सूची उन निर्देशकों की है जिन्होंने हिंदी सिनेमा के सर्वश्रेष्ठ अभिनेता शाह रुख खान को निर्देशित करने का अवसर प्राप्त किया और इस अवसर पर बहुत उत्साहित होकर एक ऐसी कमजोर कहानी पर फिल्म बनाई, जिसका अंत दर्शकों को फिल्म के शुरू में ही पता चलता है।

फिल्म की दुर्दान्त कहानी, लेकिन बजट ने बिगाड़ा बजट

बीते चार-पांच वर्षों में बनाए गए सभी म्यूजिक वीडियोज में एक कहानी सुंदर दिखती है। लड़का और लड़की एक दूसरे को प्यार करते हैं। लड़की अपने सुंदर भविष्य के लिए उसे छोड़ देती है। लड़का और लड़की कई साल बाद फिर मिलते हैं। लड़की का हाल खराब है। लड़के का प्यार इस स्थिति में जागता है। दोनों फिर से मिलते हैं। कनिका ढिल्लों ने पौने तीन मिनट के म्यूजिक वीडियो की कहानी पर अभिजात जोशी और राज कुमार हिरानी के साथ मिलकर पौने तीन घंटे का रायता फैलाया है, यह भी कहा गया है कि यह आखिरकार इन तीनों से ही नहीं, शाहरुख खान से भी मिल गया।

हमारा जन्मस्थान

2023 की 25 जनवरी को यशराज फिल्म्स की शानदार फिल्म “पठान” से क्या शानदार शुरुआत हुई! शाह रुख खान ने दीपिका पादुकोण के बेशरम रंग और हैंडसम विलेन जॉन अब्राहम के साथ घरों में बैठे दर्शकों को सिनेमाघरों में खींच लिया। फिर, “गदर 2” से लेकर “जवान” और “एनिमल” तक, ये क्रम लगातार जारी रहा। हिंदी सिनेमा प्रेमियों ने पूरी तरह से उम्मीद की कि शाह रुख खान इस साल का समापन भी एक शानदार पारिवारिक कार्यक्रम से करेंगे।

'डंकी' Film Review

लेकिन, ऐसा नहीं हो सका। और, अब ये आलम है शाह रुख खान की सुपरहिट फिल्म “डंकी” में अभिजात जोशी और राज कुमार हिरानी की बेहतरीन जोड़ी से क्या गलती हुई? यह लंबे समय तक चर्चा में रहेगा। क्या कनिका ढिल्लों ने फिल्म को ‘मॉडर्न’ बनाने के चक्कर में गफलत की या फिर राज कुमार हिरानी ने 2023 में फिल्म बनाकर मन्ना डे के मर्मस्पर्शी गाने की एक पंक्ति, “हम जहां पैदा हुए, उस जगह ही निकले दम, तुझ पे दिल कुरबान” पर फिल्म बनाकर अपने दर्शकों की नब्ज नहीं समझी? 1961 में रिलीज हुई इस फिल्म में प्रेम धवन ने क्या ही शानदार गाना लिखा था! अगर वह आज जीवित था तो वह इस वर्ष सौ साल का होता।

फिल्म की खूबसूरत शुरुआत और बाकी की बोरिंग कहानी: फैंस का ब्रेकअप?

इंटरवल के बाद शुरू हुई फिल्म “डंकी” का जो खूबसूरत प्रचार हुआ, वह इंटरवल तक फिल्म में नहीं है। फिल्म की शुरुआत इतनी देर से होती है कि फिल्म का दूसरा हिस्सा लाख रुपये चाहकर भी पैसे नहीं मिलते। फिल्म में प्रेम धवन के गाने से प्रेरित सोनू निगम का गाना और जावेद अख्तर का लिखा गाना आते-आते फिल्म दर्शकों को इतना बोर कर चुका है कि किसी ने भी इस गाने के बोलों की ओर नहीं देखा।

इस बार राजकुमार हिरानी अपने पुराने गलियारों से निकलकर पंजाब पहुंचे। वहां के गांव लाल्टू में विदेश जाने की इच्छा रखने वाले युवा लोगों की कहानी में हैरी सिंह ढिल्लों नामक एक सैनिक फौजी (जी हां, फिर से फौजी) आता है। वह आता है खुद को बचाने वाले का टेपरिकॉर्डर लौटाने लेकिन यहां के लोगों के सपने पूरे करने के लिए वह यहीं रुक जाता है। एक फौजी अवैध तरीके से इन लोगों को लंदन पहुंचाए, इसके लिए आधार बनाने में फिल्म इतना समय ले लेती है कि असली नमक का स्वाद आने तक आयोडीन ही हवा में उड़ जाता है। फिल्म से बेहतर था अनाउंसमेंट वीडियो।

शाह रुख खान की ‘डंकी’ में वापसी: क्या हिरानी-जोशी की जोड़ी ने किया है धमाल?

राज कुमार हिरानी ने विधु विनोद चोपड़ा कैंप से बाहर आने के बाद बनाई अपनी पहली फिल्म ‘डंकी’ में अपने प्रशंसकों का विश्वास तो खोया ही है, शाहरुख खान ने भी अपने चाहने वालों का दिल तोड़ने में कोई कसर नहीं छोड़ी है। पूरी फिल्म उनका किरदार पंजाबी बोलता रहता है। साफ पता चलता है कि उनकी पंजाबी अब वैसी नहीं रही जैसी दिल्ली से बंबई आने तक उनकी रही होगी।

फिल्म शुरू होने से पहले और बीच में उनके खूब सारे विज्ञापन दिखाए जाते हैं, ये दिखाने के लिए शाहरुख खान की ब्रांड वैल्यू क्या है? एक वाशिंग पाउडर के विज्ञापन में वे अपने चिर परिचित अंदाज में बाहें पसारे भी नजर आते हैं। और, इस मौके पर याद आता है फिल्म ‘डंकी’ का वह अनाउसमेंट वीडियो जिसमें शाहरुख ने राज कुमार हिरानी की फिल्म मिलने पर मजाक मजाक में अपने हाथ तक कटवा देने की बात कही थी। फिल्म ‘डंकी’ का ये वीडियो जितना प्रभावशाली था, फिल्म ‘डंकी’ उतनी हम बेअसर बनी है।

सबको याद है 1995 का शाहरुख खान। शाह रुख खान को इस फिल्म में देखकर लगता है कि उनका गेटअप फिल्म ‘पठान’ और फिल्म ‘जवान’ में उनके गेटअप से मैच कराते रहने के लिए बदलता हुआ दिखाया गया है। ये दोनों फिल्में एक्शन फिल्में रही हैं तो बिना जरूरत के फिल्म ‘डंकी’ में भी शाहरुख के दो एक्शन वाले सीन में डाल दिए गए हैं। एक में गोलियों से बचते हुए और दूसरे में गोलियां चलाते हुए।

कहानी अधिकतर 1995 की है और तब शाह रुख कैसे दिखते थे, ये देश ही क्या दुनिया भर के उनके करोड़ों चाहने वाले बता सकते हैं। 2023 के बुजुर्ग शाहरुख का जो जलवा एटली ने फिर ‘जवान’ में बांधा, वैसा करिश्मा फिल्म ‘डंकी’ के डीएनए में ही नहीं है। शाहरुख खान ने इस फिल्म की मेकिंग में कितना हस्तक्षेप किया ये तो पता नहीं लेकिन फिल्म देखकर लगता है कि फिल्म ‘पठान’ और ‘जवान’ में अपने किरदार के छींटे इस फिल्म में भी डालने का आइडिया उन्हीं का ही रहा होगा।

और, ये बात तो मैं रिव्यू के शुरू में ही लिख चुका हूं कि कैसे हिंदी सिनेमा के वे दिग्गज निर्देशक शाह रुख को पाते ही अपनी कला भूल गए, जिनके सिनेमा पर दर्शकों ने इससे पहले खूब भरोसा किया।

हंसी खुशी गुजर रहा था साल, लेकिन ‘डंकी’ का नया साल सियापा?

अब कैसे बोलेंगे हैप्पी न्यू ईयर? फिल्म की कथा, पटकथा, निर्देशन और शाह रुख खान के औसत से अभिनय के अलावा फिल्म की दूसरी बड़ी कमजोरी इसकी प्रोडक्शन डिजाइन है। पंजाब का सेट लगाने से पहले इस फिल्म की टीम ने लगता है यश चोपड़ा की फिल्में खूब देखी हैं। यशराज फिल्म्स की ‘वीर जारा’ से लेकर ‘रब ने बना दी जोड़ी’ तक की हवेलियां और गलियां फिल्म ‘डंकी’ में नजर आती हैं। लंदन, दुबई, यूएई सब देखा देखा सा है।

रिवर्स डंकी वाले सीन को छोड़कर फिल्म में कहीं कोई बात ऐसी नहीं है जो आपको सीट से थोड़ा उचककर बैठने के लिए उकसाए और ये सोचने पर मजबूर करे कि अब क्या होने वाला है? सारे कलाकार इतने गोरे चिट्टे नजर आते हैं कि निर्देशक को भी इसे स्थापित करने के लिए एक लाइन डालनी पड़ती है, ‘मेरी मां कहती थी तू बिल्कुल फॉरेनर’ लगता है। गाने, शाने तो जी, जैसे हैं वैसे हैं ही। बड़ी कोफ्त इस बात को लेकर हुई कि इतना हंसी खुशी गुजर रहा साल जाते जाते एक ऐसी फिल्म का सियापा करते बीतने वाला है।

यह भी पढ़े:-

IPL २०२४: हार्दिक मुंबई इंडियंस जाएगा! कम पैसे के पार्स; क्या गिल को गुजरात की कप्तानी मिलेगी?

मुंबई इंडियंस

हार्दिक को ट्रांसफर की लागत का पचास प्रतिशत मिलेगा। 2015 में हार्दिक ने भी मुंबई इंडियंस से आईपीएल करियर शुरू किया था। तब मुंबई ने 10 लाख रुपये में उन्हें खरीद लिया।

खबर को पुरा पढ़ने के लिए click करे:-rashtriyabharatmanisamachar

 

Spread the love
What does "money" mean to you?
  • Add your answer